नालंदा : मानव श्रृंखला को लेकर हरदेव भवन में बैठक, 20 प्रखंड के 5 लाख लोग

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले में 19 जनवरी की मानव श्रृंखला ऐतिहासिक होगी, इस श्रृंखला में 20 प्रखंडों के 5 लाख लोगों की 514 किलोमीटर लंबी होगी श्रंखला। यह मानव श्रृंखला जल जीवन हरियाली, मद्य निषेध तथा बाल विवाह एवं दहेज प्रथा उन्मूलन के समर्थन में बनाई जाने वाली राज्यव्यापी मानव श्रृंखला को जिला में प्रभावी ढंग से आयोजन को लेकर आज जिला पदाधिकारी योगेंद्र सिंह की अध्यक्षता में हरदेव भवन सभागार में जिला स्तरीय संचालन समिति की बैठक की गई।

विज्ञापन

514 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला का निर्माण किया जाना है, जिसके लिए 20 प्रखंडों के रूट एवं सब रूट का निर्धारण किया जा चुका है। सभी रूट पर मानव श्रृंखला निर्माण में अधिक से अधिक लोगों की भाग को सुनिश्चित करने के लिए जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। शिक्षा विभाग के माध्यम से तीन कला जत्था दल विभिन्न प्रखंडों एवं पंचायतों में जन जागरुकता अभियान चला रही है। सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के माध्यम से दो प्रचार रथ लगातार विभिन्न प्रखंडों एवं पंचायतों में प्रचार प्रसार कार्य कर रहे हैं। इसके साथ ही होर्डिंग, वॉल पेंटिंग एवं नारा लेखन के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है,जो लगातार 18 जनवरी तक जारी रहेगा।जिला पदाधिकारी ने सभी प्रखंडों में प्रखंड स्तरीय संचालन समिति की बैठक करने का निर्देश दिया।

विज्ञापन

इन बैठकों में थाना प्रभारी एवं अधिक से अधिक जनप्रतिनिधियों एवं सामाजिक संगठनों की सहभागिता सुनिश्चित करने को कहा गया है।पंचायत स्तर पर भी पंचायत स्तरीय संचालन समिति गठित कर बैठक करने  को कहा गया। प्रचार-प्रसार हेतु सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को भी जिम्मा दिया गया। शिक्षा,आईसीडीएस एवं जीविका को जन जागरूकता अभियान में बढ़-चढ़कर भाग लेने को कहा गया है।जिलापदाधिकारी ने सभी प्रखंडों में सफल मानव श्रृंखला के निर्माण हेतु माइक्रो लेवल की प्लानिंग सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।अगले सप्ताह में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की जा रही तैयारियों की समीक्षा की जाएगी।

बैठक में पुलिस अधीक्षक निलेश कुमार,उप विकास आयुक्त राकेश कुमार, अपर समाहर्ता मोहम्मद नौशाद आलम,नगर आयुक्त सौरभ जोरवाल,सभी अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, जीविका के बीपीएम सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।


Spread the news
advertise