छात्रों को क्लास चलने को प्रेरित करने AISF और AIYF बीएनएमयू इकाई की अच्छी पहल

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : छात्र संगठन एआईएसएफ (AISF) की बीएनएमयू (BNMU) इकाई और युवा संगठन एआईवाईएफ (AIYF) मधेपुरा द्वारा ‘छात्र युवा संगठन चला गांव की ओर’  मुहिम के अन्तर्गत बुधमा व मुरहो पंचायत में जन संवाद कर बूढ़े, जवान, बच्चों से संवाद किया गया।

छात्र संगठन एआईएसएफ के राज्य परिषद् सदस्य सौरभ कुमार और एआईवाईएफ के जिला अध्यक्ष जितेंद्र कुमार मुन्ना की अध्यक्षता में आयोजित संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एआईएसएफ के बीएनएमयू व पीयू प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कहा कि दुनिया की सभी समस्याओं का निदान शिक्षा से ही संभव है और शिक्षा क्लास और शिक्षक से जुड़कर ही प्राप्त की जा सकती है। उपस्थित लोगों से छात्र नेता राठौर ने कहा कि एआईएसएफ की पहल पर टी पी कॉलेज प्रधानाचार्य द्वारा छात्रों को वर्ग से जोड़ने की मुहिम शुरू की गई है, इस मुहिम को तेज करने का बीड़ा एआईएसएफ ने उठाया है, इसी कड़ी में गांव-गांव लोगों के बीच जाने का निर्णय किया गया है।

उच्च शिक्षा के लिए बढ़ चढ़ कर भागीदारी की अपील

 इस अवसर पर एआईएसएफ नेता राठौर ने उच्च शिक्षा के लिए बढ़ चढ़ कर भागीदारी की अपील करते हुए कहा कि जिला मुख्यालय में अल्पसंख्यक महिला छात्रावास अल्प शुल्क में उपलब्ध है, विश्वविद्यालय मुख्यालय का बालिका छात्रावास बनकर तैयार है, अन्य कई हॉस्टल भी हैं, वहीं एससी,एसटी के छात्रों व सभी वर्ग की छात्राओं को पीजी तक की पढ़ाई में नामांकन व फॉर्म भराई फीस माफ है, इसके अलावा महाविद्यालयों में निर्धन छात्र कोष की भी व्यवस्था है, इसका लाभ लेकर अपने बच्चों को जरूर शिक्षा दें ।

एआईवाईएफ के राष्ट्रीय परिषद् सदस्य शम्भु क्रांति ने इस मौके पर कहा कि वाम छात्र व युवा संगठन छात्र व युवाओं के मुद्दों को लेकर लगातार सक्रिय है। वर्तमान समय में आमलोगों की मूलभूत जरूरत शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, रोजगार की व्यवस्था चरमराई हुई है, इसको सुधारने की जवाबदेही पूरी तरह से युवाओं की है और युवाओं को हौसला देने का काम अभिभावकों का है, दोनों मिलकर अगर पहल करें तो सामाजिक स्तर पर बदलाव की कहानी लिखना बहुत कठिन नहीं है। इस मौके पर उन्होंने युवाओं को जागरूक हो अपने हक अधिकार को जानने की अपील की ।

जितने लोग शिक्षा से जुड़ेंगे, उतना ही ज्यादा समाज का होगा विकास

संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एआईवाईएफ नेता जितेंद्र कुमार मुन्ना और एआईएसएफ नेता सौरव ने कहा कि दोनों संगठन छात्र व युवा हित में निरन्तर संघर्ष कर रहा है, अपने संघर्ष की उपलब्धि और लोगों के अधिकार कि बातों को लेकर यह संवाद कार्यक्रम शुरू किया गया है, इसे विभिन्न स्तरों पर लगातार जारी रखा जाएगा। आम लोगों को आगे बढ़कर शिक्षा रूपी मशाल को पकड़ने की जरूरत है, जितने लोग शिक्षा से जुड़ेंगे समाज का विकास उतना ही ज्यादा होगा । इस अवसर पर कई लोगों ने संगठन के सदस्यों के सामने अपनी समस्या भी रखी।

सीओ ने कहा आवासीय घर में नहीं बल्कि भूसे के घर में लगी है आग, नहीं मिला कोई मुआवजा

मौके पर छात्र नेता संत कुमार, मो नाजिर, संजीव, राजीव, शनीउल्लाह, विवेक, प्रशांत, सुमन, रामाकांत सहित बड़ी संख्या में लोगों की भागीदारी रही।

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें