मधेपुरा : टीकाकरण केंद्र पर उड़ाई जा रही है नियमों की धज्जियां

Photo : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : राज्य सरकार के आदेश के अनुसार मंगलवार से विद्यालय या समुदायिक भवन में वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है. सदर अस्पताल के परिसर से वैक्सीन सेंटर को शिवनंदन प्रसाद मंडल इंटर स्तरीय उच्च विद्यालय में स्थगित कर दिया है. जहां युवक व युवती वैक्सीन लेने पहुंच रहे हैं.  इसी को लेकर टीकाकरण केंद्रों पर भीड़ उमड़ पड़ी है. ऐसा लग रहा है जैसे लोग भूल गए हैं कि कोरोना भीड़भाड़ में फैलता है. कमोबेश सभी जगह लंबी लाइनों में लगकर, एक-दूसरे से सट कर तथा नियमों का मजाक बनाकर लोग अपनी बारी का इंतजार करते नजर आ रहे हैं. जिले में टीकाकरण को लेकर युवाओं ने भी खासा उत्साह देखा जा रहा है. निर्धारित अवधि के पूर्व ही टीकाकरण स्थल पर युवाओं की खासी भीड़ देखी जा रही है, लेकिन ना तो लोगों द्वारा नियमों का किया जा रहा है और ना ही प्रशासन के द्वारा इस पर कोई ध्यान दिया जा रहा है.Photo : www.therepublicantimes.co

टीका के लिए दो काउंटर, भीड़ व्यवस्थित करने के लिए सिर्फ एक गार्ड : सरकार द्वारा टीकाकरण कोरोना की रोकथाम के लिए किया गया है, लेकिन टीकाकरण केंद्र पर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ता देख यह लग रहा है कि कहीं टीकाकरण केंद्र ही कोरोना विस्फोट का कारण न बन जाय. जिला मुख्यालय स्थित शिवनंदन प्रसाद मंडल इंटर स्तरीय उच्च विद्यालय टीकाकरण केंद्र पर मंगलवार की सुबह जैसे ही टीकाकरण शुरू हुआ तो लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. केंद्र पर दो काउंटर बनाया गया था, लेकिन लोगों की भीड़ को व्यवस्थित करने के लिए कोई व्यवस्था नहीं की गई थी. हालांकि एक सुरक्षा गार्ड की तैनाती की गई थी, लेकिन इतने लोगों को कतारबद्ध व सोशल डिस्टेंस में खरे रखने के लिए वह काफी नहीं था. जिसके कारण वहां सोशल डिस्टेंस को ताक पर रखकर टीकाकरण किया गया.

टीकाकरण केंद्र पर उड़ाई जा रही है नियमों की धज्जियां : कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तेजी से फैल रही है. संक्रमण की रोकथाम के लिए राज्य सरकार द्वारा 15 मई तक लॉकडाउन भी लगा दिया गया है. साथ ही सरकार द्वारा तेज रफ्तार से टीकाकरण का कार्य भी किया जा रहा है. इसी बीच रविवार से 18 वर्ष से लेकर 44 वर्ष तक के लोगों का भी टीकाकरण शुरू कर दिया गया है. इससे पूर्व जिले में केवल स्वास्थ्य कर्मी, फ्रंटलाइन कर्मियों एवं 45 वर्ष से लेकर 60 वर्ष तक के ऊपर के लोगों के लिए टीकाकरण की अनुमति दी थी. टीकाकरण करने में नियमों का उल्लंघन ना हो तथा किसी भी व्यक्ति को किसी तरह का परेशानी का सामना ना करना पड़े इसके लिए जिले में सभी जगहों पर टीकाकरण के लिए अलग स्थान चयनित कर लिया गया है जहां पर मंगलवार से टीकाकरण किया जा रहा है. टीकाकरण के लिए अलग स्थान तो जरूर चयनित कर लिया गया है और वहां टीकाकरण शुरू भी कर दिया गया है, लेकिन नियमों की धज्जियां भी इन्हीं स्थानों पर उड़ाई जा रही है.

इन जगहों पर किया जा रहा है कोरोना टीकाकरण का कार्य : जिले में टीकाकरण के लिए सदर अस्पताल समेत पीएचसी एवं सीएचसी से नजदीक स्कूल या सार्वजनिक स्थानों को टीकाकरण केंद्र बनाया गया है. सदर अस्पताल के लिए  शिवनंदन प्रसाद मंडल इंटर स्तरीय उच्च विद्यालय, पीएचसी मुरहो के लिए योगेंद्र हाई स्कूल मुरहो, सीएचसी बिहारीगंज के लिए हाई स्कूल बिहारीगंज, सीएचसी आलमनगर के लिए आईबी आलमनगर, सीएचसी मुरलीगंज के लिए कलाभवन मुरलीगंज, पीएससी घैलाढ़ के लिए दुर्गा मिडिल स्कूल घैलाढ़, सीएचसी चौसा के लिए जनता हाई स्कूल चौसा, पीएचसी उदाकिशुनगंज के लिए प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित सहकारिता भवन उदाकिशुनगंज, सीएचसी कुमारखंड के लिए आदर्श सिंहेश्वर मिडिल स्कूल कुमारखंड, पीएचसी गम्हरिया के लिए मिडिल स्कूल गम्हरिया, सीएचसी ग्वालपाड़ा के लिए मधुराम प्लस टू हाई स्कूल ग्वालपाड़ा, सीएचसी सिंहेश्वर के लिए प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित मीटिंग हॉल सिंहेश्वर, सीएचसी पुरैनी के लिए उत्क्रमित मिडिल स्कूल पुरैनी एवं पीएचसी शंकरपुर के लिए आपदा भवन बेहरारी शंकरपुर चयनित किया गया है.

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें