एम्बुलेंस चोर पर कारवाई के बजाय पप्पू की गिरफ्तारी सरकार की विफलता को छिपाने का प्रयास-एआईएसएफ

Photo : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

पूर्व सांसद द्वारा उजागर मामलों में दोषियों पर कारवाई की जगह पप्पू यादव की गिरफ्तारी राजनीतिक मर्यादा का भी हनन-राठौर

मधेपुरा/बिहार : लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने के आरोप लगा मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव को पटना पुलिस द्वारा गिरफ्तारी घटिया राजनीति व अंधेर नगरी चौपट राजा की कहानी को दिखा रहा है।

ये बातें वाम छात्र संगठन के प्रांतीय नेता हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने मधेपुरा के पूर्व सांसद पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर संगठन की ओर से ऐतराज व्यक्त करते हुए कही। उन्होने कहा कि विगत कुछ दिनों में सूबे में उभर कर सामने आई लचर स्वास्थ्य व्यवस्था के बाद पप्पू यादव बढ़ चढ़ कर असहाय व जरूरतमंदों की मदद करने,  सरकारी व्यवस्थाओं की खामियों की पोल खोलने के साथ जनप्रतिनिधि यों की मनमानी को सामने ला रहे थे जिससे सरकार की बड़ी किरकिरी हो रही थी। पप्पू यादव द्वारा उजागर कुव्यवस्था को सुधारने के बजाय  उन्ही को गिरफ्तार करना दर्शाता है कि सरकार पप्पू यादव के गतिविधि से घबरा गई है।

एआईएसएफ नेता राठौर ने कहा कि पूर्व सांसद के प्रयास से बड़ी संख्या में एम्बुलेंस छुपा कर घर पर रखने वाले सांसद राजीव प्रताप रूडी पर आपदा में अवसर तलाशने को लेकर कठोरतम कारवाई होनी चाहिए साथ ही दरभंगा, सहरसा, सुपौल सहित अन्य जिलों में उजागर हुए स्वास्थ्य व्यवस्था से जुड़े कीमती सामानों की दुर्दशा के जिम्मेदार को भी सामने लाने की जरूरत है। पूर्व सांसद पप्पू यादव ने सूबे की स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी है इसको अपना आईना समझ व्यवस्था को सुधारने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उन्होंने हर विषम दौर में जिस तरह अपनी जान की परवाह किए बिना जनसेवा की है उससे वो जनता के दिलों में बसते हैं। सरकार अविलंब उन्हें रिहा कर  राजीव प्रताप रूडी सहित अन्य दोषियों को गिरफ्तार करने का काम करे, अन्यथा पप्पू यादव की गिरफ्तारी जन आंदोलन को विवश करेगी।

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें