महामारी के समय लापरवाही बरतने वाले किसी भी स्तर के पदाधिकारी के विरुद्ध होगी कार्रवाई – डीएम  

Photo : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मुजफ्फरपुर/बिहार : जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार के द्वारा उनके कार्यालय कक्ष में कोविड-19 से संबंधित बैठक आहूत की गई। बैठक में नगर आयुक्त विवेक रंजन मैत्रेय,उप विकास आयुक्त डॉ सुनील कुमार झा, सिविल सर्जन मुजफ्फरपुर डॉ एसके चौधरी, सहायक समाहर्ता श्रेठ अनुपम सहित अन्य वरीयअधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में जिलाधिकारी के द्वारा ऑक्सीजन गैस का उत्पादन, आपूर्ति और वितरण की समीक्षा की गई। बताया गया कि दोनों ही प्लांट से ऑक्सीजन का उत्पादन हो रहा है। साथ ही आपूर्ति और वितरण पर सतत नजर रखी जा रही है। आवश्यक दवाओं व उपकरणों की उपलब्धता की समीक्षा की गई। सिविल सर्जन को निर्देशित किया गया कि आवश्यक दवाओं/ उपकरणों की उपलब्धता हर हाल में सुनिश्चित हो। निजी अस्पतालों के औचक निरीक्षण करना भी सुनिश्चित की जाय। निर्देश दिया गया कि सिविल सर्जन यह सुनिश्चित करें कि एसकेएमसीएच में एवं निजी अस्पतालों में निर्धारित प्रोटोकॉल के तहत कोरोना मरीजो का ट्रीटमेंट किया जा रहा है कि नहीं। जिलाधिकारी ने स्पष्ट कहा कि महामारी के समय लापरवाही बरतने वाले किसी भी स्तर के पदाधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई करने से कोई गुरेज नहीं होगा। सभी अपने दायित्वों का निर्वहन गंभीरतापूर्वक करना करना सुनिश्चित करें।

advertisement

 बैठक में एसकेएमसीएच और निजी अस्पतालों में इराजरत मरीजों की संख्या, डिस्चार्ज मरीजों की संख्या और ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल,आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता,डेथ की संख्या की भी समीक्षा की गई।

डेडिकेटेड कोविड केयर सेंटर ग्लोकल अस्पताल,अल्पसंख्यक छात्रावास, कोविड ओपीडी में  मरीजों के इलाज को लेकर की गई व्यवस्था की अद्यतन स्थिति की जानकारी जिलाधिकारी द्वारा ली गई। संबंधित नोडल पदाधिकारियों को इलाज के साथ आवश्यक सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया।

 बैठक में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा बताया गया कि ऑक्सीजन का उत्पादन सदर अस्पताल में शुरू कर दिया गया हैऔर ऑक्सीजन का उचित इस्तेमाल हो इस बाबत मातृ- शिशु अस्पताल को 50 बेड का कोविड अस्पताल बनाने की दिशा में प्रारंभिक तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। सभी बेड़ों पर आक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है।बेडो की संख्या आगे बढ़ाई जा सकती है। उक्त अस्पताल में पूर्व से एडमिट सामान्य मरीजों के लिए वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित की गई है।

मालूम हो कि एसकेएमसीएच में भी ऑक्सीजन प्लांट पर काम किया जा रहा है जो कि 12 से 15 दिनों में कार्य करना प्रारंभ कर देगा। बैठक में बताया गया कि शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते कोरोना संक्रमण से बचाव और रोकथाम को लेकर माइकिंगके द्वारा सघन प्रचार -प्रसार किया जा रहा है। नगर आयुक्त मुजफ्फरपुर और कार्यपालक पदाधिकारी कांटी,मोतीपुर ,साहेबगंज को निर्देशित किया गया कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए शहर एवं नगर पंचायत क्षेत्रों में कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बचाव एवं सजग रहने तथा आवश्यक सावधानी बरतने हेतु स्टैटिक माइकिंग के द्वारा प्रचार -प्रसार कराना सुनिश्चित करें। स्टैटिक माइकिंग के द्वारा मास्क पहने ,हाथों को सेनिटाइज करें, दो गज की दूरी बनाए रखने आदि का व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं। स्टैटिक माइकिंग के द्वारा कोरोना के लक्षण एवं उसके रोकथाम के अलावा जिला कोरोना कंट्रोल रूम का दूरभाष संख्या एवं आसपास के कोरोना पॉजिटिव लोगों के बारे में भी जानकारी दी जाए।

अंजुम शहाब
ब्यूरो
मुजफ्फरपुर

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें