किसान चौपाल में किसानों को सिखाए गए वैज्ञानिक खेती के गुर

728x90
Spread the news

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : उदाकिशुनगंज प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत लश्करी पंचायत के बराटेनी गाँव स्थित पंचायत भवन परिसर में गुरुवार को किसान चौपाल का आयोजन प्रखंड कृषि समन्वयक अमरपति निरंजन की अध्यक्षता में किया गया।

मौके पर कृषि कर्मी मुकेश कुमार, मनोज कुमार ने उपस्थित किसानों को वैज्ञानिक तरीके से खेती करने के गुर सिखाए। वही बताया गया कि कृषक बंधु किसान पंजीयन संख्या से सहकारिता विभाग में पंजीकृत कर पैक्स में अपना धान 1867 रुपये कुंटल बेच सकते है। सरकार के अंदेशाअनुसार 48 घंटे के अंदर रुपया का भुगतान किया जाएगा। वही किसान प्रखंड सहकारिता विभाग से संपर्क किया जा सकता है। इस दौरान किसानों को गेहूं बुवाई के लिए जीरो टिलेज और श्री विधि के द्वारा खेती करने के लिए विशेष जानकारी दी गई। वही किसानों को ऑनलाइन प्रशिक्षण भी दिया गया।

कार्यक्रम में मौजूद किसान को कृषि समन्वयक अमरपति निरंजन ने तकनीकी से खेती करने वाले किसानों को अनुदान पर मिलने वाले यंत्र के बारे में भी विस्तार पूर्वक जानकारी दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि बाढ़ के दौरान जिन किसानों की धान का फसल क्षति हुई थी उसके लिए धान के फसल क्षति मुआवजा के लिए विगत 2 दिसंबर से ही ऑनलाइन आवेदन जारी हो चुका है। जो 17 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन जारी रहेगा।

जबकि कृषि यांत्रिक अनुदानों के लिए भी ऑनलाइन आवेदन शुरु हो चुका है। वही किसान रोटावेटर, झाल, फारी, थ्रेसर, स्प्रे मशीन कुटकट्टा मशीन, आदि के इच्छुक किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। किसानों को बताया गया कि 8 हजार रुपये के नीचे के यांत्रिकरण के लिए सिर्फ जमीन कि रसीद लगेगी। जबकि 8 हजार से उपर के यांत्रिकरण के लिए एलपीसी (भुस्वामित्व पत्र) लगेगा। यह योजना किसान कृषि विभाग द्वारा चलाए जा रहे है। योजनाओं का खेती हेतु जैविक प्रोत्साहन योजना एवं प्रखंड अंतर्गत आच्छादन कार्यक्रम का लाभ ले सकते है।

किसान सलाहकार महताब आलम,बैजनाथ सिंह,संदीप पासवान, अमरेंद्र कुमार, राजकिशोर कुमार, परमानंद मंडल, धर्मेंद्र कुमार

ने बताया कि कृषि यंत्र के उपयोग द्वारा खेती करने पर कम बीज और कम मेहनत पर फसलों की उपज अधिक होती है। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में किसान अवश्य रुप से भाग लेकर कृषि से संबंधित तकनीकी जानकारी हासिल कर उसका उपयोग अपने खेतों में करें जिससे खेतों में उत्पादन और उत्पादक की क्षमता बढ़ सके।

मौके पर पंचायत समिति सदस्य रंजू देवी,वार्ड सदस्य सदानन्द ठाकुर,हीरा कुमार,नरेश राय, अमोल पंडित,राजो यादव,नंदकिशोर मंडल,पिंटू यादव सहित अन्य किसान मौजूद थे।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें