मधेपुरा : डा नरेश कुमार को शिक्षाशास्त्र विभाग के प्रोफेसर इंचार्ज की दी गई जिम्मेदारी

728x90
Spread the news

विज्ञापन
अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : विश्वविद्यालय रसायनशास्त्र विभाग के प्रोफेसर सह बीएनमुस्टा के महासचिव डा नरेश कुमार को शिक्षाशास्त्र विभाग के प्रोफेसर इंचार्ज की जिम्मेदारी दी गई है । डा नरेश कुमार अंग्रेजी के शिक्षक डा बद्री नारायण यादव का स्थान लेंगे । इस बावत विश्वविद्यालय की अधिसूचना जारी कर दी गई है ।

विज्ञापन

मालूम हो कि डा नरेश कुमार का जन्म मधेपुरा जिलान्तर्गत मनहरा गांव में एक जून 1963 को हुआ है । इन्होंने टीपी काॅलेज मधेपुरा से इंटर एवं स्नातक तथा ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय दरभंगा  से स्नातकोत्तर एवं पीएचडी की डिग्री प्राप्त की है । वर्ष 1996 में एमएलटी काॅलेज सहरसा में रसायनशास्त्र के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर बने एवं वर्ष 2000 में इनका स्थांतरण स्नातकोत्तर रसायनशास्त्र विभाग में हुआ । डा नरेश कुमार की दो पुस्तकें एप्लीकेशन ऑफ एक्स-रे, स्पेक्टेस्कोपी एवं बेसिक कांसेप्ट ऑफिसियल इनआर्गेनिक कमेस्ट्री एवं लगभग तीन दर्जन शोध पत्र प्रकाशित हैं । इनके मार्गदर्शन में नौ शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधि मिली है. डा नरेश कुमार भारतीय विज्ञान कांग्रेस, इंडियन केमिकल सोसायटी ऐसोसियन आफ केमिस्ट्री टीचर आदि के सक्रिय आजीवन सदस्य एवं काउन्सिल ऑफ केमिकल साइंसेज के सचिव भी हैं ।

विज्ञापन

 डा नरेश कुमार वर्ष 2001 से बीएनमुस्टा के निर्विरोध महासचिव एवं लगभग दस वर्षों से अधिषद के निर्विरोध सदस्य हैं, साथ ही कई महाविद्यालयों में विश्वविद्यालय प्रतिनिधि, शासी निकाय के सचिव एवं अध्यक्ष की जिम्मेदारियों का निर्वाहन कर रहे हैं । प्रमोशन सेल के समन्वयक के रूप में शिक्षकों को प्रोन्नति दिलाने एवं माई बर्थ माई अर्थ मिशन के तहत विश्वविद्यालय परिसर को हरा-भरा बनाने में इनकी अहम भूमिका रही है ।


Spread the news