मधेपुरा : शैक्षणिक अराजकता एवं भ्रष्टाचार को लेकर कुलसचिव से अभाविप ने की वार्ता

Spread the news

विज्ञापन

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : शुक्रवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रतिनिधिमंडल ने स्नातक तृतीय खंड के परीक्षा परिणाम लगभग चार हजार छात्र-छात्राओं का परीक्षा परिणाम के पेंडिंग में सुधार में हुई देरी को लेकर बीएनएमयू कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव से मिलकर वार्ता किया ।

विज्ञापन

 वार्ता के दौरान बीएनएमयू कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद यादव ने आश्वासन दिया कि स्नातक तृतीय खंड के परीक्षा परिणाम में पेंडिंग परिणाम में सुधार को लेकर काम चल रहा है, इसके लिए विश्वविद्यालय अपने स्तर से काम कर रही है । इस अवसर पर प्रदेश सह मंत्री अभिषेक यादव एवं प्रदेश कार्यसमिति सदस्य सह सीनेट सदस्य रंजन यादव ने कहा कि बीएनएमयू प्रशासनिक लापरवाही के कारण हजारों हजार छात्र-छात्राओं की जिंदगी अंधेर में लटका दिया है, जिसका खामियाजा छात्र-छात्राओं को भुगतना पड़ रहा है ।  जिन छात्र-छात्राओं का स्नातक प्रथम खंड द्वितीय खंड एवं तृतीय खंड का परीक्षा परिणाम क्लियर है, उसका किस हिसाब से परिणाम पेंडिंग है । पूर्व में भी प्रति कुलपति प्रो डा फारुक अली एवं परीक्षा नियंत्रक डा नवीन कुमार से मिलकर पेंडिंग रिजल्ट में हुई गड़बड़ी को लेकर ज्ञापन दिया जा चुका है । हफ्ते भर से ऊपर हो गए हैं, लेकिन अभी तक स्नातक तृतीय खंड के टीआर का बहाना बना रहे हैं । विश्वविद्यालय प्रशासन जल्द से जल्द छात्रों के पेंटिंग परिणाम को सुधार करें अन्यथा आगामी दिनों में अभाविप शैक्षणिक अराजकता एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़े आंदोलन करने का बाध्य होगा ।

विज्ञापन

मौके पर प्रदेश कार्यसमिति सदस्य आमोद आनंद, दिलीप कुमार दिल, जिला संगठन मंत्री उपेंद्र कुमार भरत मौजूद थे ।


Spread the news
advertise