मधेपुरा : मवेशी व्यापारी से रूपये लूट कर भाग रहे तीन अपराधियों को ग्रामीणों धर दबोचा

728x90
Spread the news

विज्ञापन

मवेशी व्यापारीसे रूपया लूट कर भाग रहे थे पाँच अपराधी

ग्रामीणों ने देशी पिस्तौल,जिंदा कारतूस व लूटी रकम बरामद कराया

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा//बिहार : जिले के उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के हरैली गांव से सोनवर्षा गांव जाने वाली सड़क के बीच मंगलवार की सुबह मवेशी व्यापारीसे रूपया लूट कर भाग रहे तीन अपराधी को लोगों ने उदा बाजार के पास पकड़ लिया। पकड़ाये अपराधियों को ग्रामीणों ने खुट्टे में बांधकर जमकर पिटाई कर दी। पुलिस के पहुंचने से बदमाशों की जान बच पाया।

विज्ञापन

बताया जाता है कि यहां पर बदमाश माबलीचिंग की घटना से बच निकलने मे कामयाब रहा। वहीं मौके पर से दो बदमाश फरार हो गए। पकड़ाये गए बदमाशों के पास से एक देशी पिस्तौल, तीन जिंदा कारतूस व लूट के रूपये, मोबाइल बरामद किए गए है। वही ग्रामीणों द्वारा दबी जुबान मे बदमाशों के पास चार हथियार होने की बात बताया जा रहा है। तीन हथियार का पुलिस पता लगा रही है।

बताया जाता है कि थाना क्षेत्र के रहटा गांव वार्ड संख्या सात निवासी मवेशी व्यापारीमोहम्मद जियाद्दीन और शमशेर आलम व्यापारके सिलसिले में पास के गांव जा रहे थे । रास्ते में हरैली और सोनवर्षा गांव के बीच सड़क पर बदमाशों ने हथियार का भय दिखाकर जियाद्दीन के पास से 17 हजार रूपये और शमशेर के पास से 19 सौ रूपये लूट लिए। बदमाशों की संख्या चार बताया जा रहा है। सभी बदमाश दो बाईक पर हथियार से लैस थे। बताया जाता है कि उसी वक्त एक पूर्व मुखिया के नीजी वाहन चालक अपने घर से आ रहा था, मवेशी व्यापारीने चालक को पूरी बात बताया। जहां चालक ने बदमाशों के भागने की दिशा वाले आसपास के गांव के लोगों को मोबाइल पर जानकारी दी। वहीं चालक ने पूर्व मुखिया को खबर दिया।

विज्ञापन

पूर्व मुखिया अपने चालक और अन्य लोगों के साथ बदमाशों के भागने की दिशा में पीछा किया। तबतक तीन बदमाश उदा गांव के लोगों के हत्थे चढ गया। देखते ही देखते लोगों की भाड़ी भीड़ जमा हो गई। जहां लोगों ने बदमाशों की पिटाई कर दी। पकराएं गए बदमाशों में थाना क्षेत्र के छर्रापट्टी गांव के मुरारी यादव, आलमनगर थाना क्षेत्र के कपसिया गांव के मनीष कुमार, बिहारीगंज थाना क्षेत्र के मधुकर चौक गांव के अभिषेक कुमार उर्फ गोलू बताया जा रहा है। जबकि दो बदमाश मौके पर से भाग निकलने मे कामयाब बताया जा रहा है।

विज्ञापन

वही चहुंओर ग्रामीणों के साहस की चर्चा हो रही है। जिस तरह से इन दिनों अपराधियों ने लोगों को मुश्किल में डाल दिया। उससे बड़ी कामयाबी माना जा रहा है। पुलिस भी पिछले कई माह से इन बदमाशों के गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत रही। खासकर मुरारी की तलाश पुलिस को लंबे समय से रहा। पुलिस के बुने जाल में फंसने से कई बार मुरारी बच निकला। मुरारी क्षेत्र में भय और आतंक का माहौल पैदा कर रखा था। उस पर हत्या लूट जैसे संगीन मामले दर्ज है। बदमाश राहगीरों को अपना निशाना बनाते थे। गिरफ्त में आए बदमाशों से अहम सुराग मिलने के आसार है।

बहरहाल पुलिस ने बदमाशों के अपराधिक इतिहास को खंगाल रही है। थानाध्यक्ष शशिभूषण सिंह के मुताबिक पुलिस कई बिंदुओं पर जांच कर रही है। पूरी पड़ताल के बाद बदमाशों के बारें में खुलासा करेंगे।


Spread the news