मधेपुरा : सीएसपी संचालक पर दर्जनों वृद्धा पेंशनधारियों के खाते से अवैध निकासी का आरोप

728x90
Spread the news

विज्ञापन
मिथिलेश कुमार
संवाददाता
मुरलीगंज, मधेपुरा

मुरलीगंज/मधेपुरा/बिहार : मुरलीगंज प्रखण्ड के मीरगंज में सीएसपी संचालक द्वारा दर्जनों वृद्धा पेंशनधारियों के खाते से अवैध तरीके से रुपये निकासी करने का मामला प्रकाश में आया है।

जोरगामा पंचायत के वार्ड 10 निवासी सिया देवी, बिमला देवी, झकरी देवी, ननकी देवी, हकरी देवी सहित दर्जनों वृद्धा पेंशन लाभुकों ने रहिका टोला वार्ड 12 में सीएसपी चला रहे अमरनाथ कुमार अमर पर पैसा निकाल लेने को लेकर मुरलीगंज थाना में आवेदन दिया है। पेंशनधारियों का आरोप है कि हमलोगों के खाते में सरकार द्वारा मिलने वाली वृद्धा पेंशन के नौ माह की राशि 3600 रुपया आया था। पैसा आने के बाद सीएसपी संचालक अमरनाथ कुमार अमर हमलोगों को बुलाकर प्रत्येक आदमी के खाते से 3600 रुपया निकालकर पेंशन लाभुको को मात्र एक एक हजार रुपया ही दिया। साथ ही बताया कि शेष बचे 2600 रुपए अपने पास रखकर दो – चार दिन में शेष बचे पैसा देने की बात कहा। जब दो चार दिन बीतने के बाद हमलोग शनिवार को बांकी बचे पैसे मांगने गए तो हमलोगों के साथ गाली गलौज व मारपीट करते हुए यह कहकर भगा दिया कि जो करना है करो हम पैसा नहीं देंगे।

विज्ञापन

उक्त घटना के आलोक में हमलोग ग्रामीण पंच एवं जनप्रतिनिधियों को बुलाकर पंचायती बैठाए। उक्त घटना के आलोक में जब पंचों द्वारा सीएसपी संचालक अमरनाथ कुमार अमर एवं उनके पिता से पूछताछ करने लगे तो वे लोग पंच से भी उलझ गए। वहीं उक्त मामले के आलोक में रहिका टोला वार्ड 12 के वार्ड सदस्य प्रमोद पोद्दार ने भी थाना में आवेदन दिया है। आवेदन में उन्होंने बताया कि पंचायत में गांव के मुखिया अभय कुमार गुप्ता एवं स्थानीय पंच व गणमान्य व्यक्ति के साथ मैं भी पंचायत में शामिल था। पूछताछ करने के दौरान अमरनाथ कुमार अमर एवं बिनोद पोद्दार हमलोगों के साथ गाली गलौज एवं जान मारने की धमकी देते हुए धक्का मुक्की करने लगा। वहीं इतना ही नहीं उक्त व्यक्तियों के द्वारा हमलोगों पर झूठा आरोप लगाकर एक लाख साठ हजार रुपये छीन कर भागने का आवेदन थाना में दिया गया। जो झूठा एवं बेबुनियाद है।

इस बावत थानाध्यक्ष किशोर कुमार ने बताया कि जांचोपरांत मामला स्पष्ट हो पाएगा। दोनों तरफ से आवेदन प्राप्त हुआ है।


Spread the news