मधेपुरा : वर्तमान समय में छात्र एवं युवाओं के सामने बड़ी चुनौती- डा जवाहर

728x90
Spread the news

मो० नियाज अहमद
ब्यूरो, मधेपुरा

मधेपुरा/बिहार : गुरुवार को जिला मुख्यालय स्थित ठाकुर प्रसाद महाविद्यालय ऑल इंडिया स्टूडेंट यूनियन के राष्ट्रीय महासचिव इं मुरारी कुमार की अध्यक्षता में छात्र विमर्श कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मुख्य कार्यक्रम का शुभारंभ बीएनएमयू के सिंडिकेट एवं सीनेट सदस्य डा जवाहर पासवान, पूर्व पार्षद सह सामाजिक कार्यकर्ता ध्यानी यादव, ऑल इंडिया स्टूडेंट यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गौतम आनंद, प्रदेश अध्यक्ष आलोक आनंद, राष्ट्रीय महासचिव इं मुरारी कुमार सहित अन्य अतिथियों ने सम्मिलित रूप से दीप प्रज्वलित कर किया गया।

 

देखें वीडियो :

मौके पर छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए बीएनएमयू के सिंडिकेट एवं सीनेट सदस्य डा जवाहर पासवान ने कहा की वर्तमान समय में छात्र एवं युवाओं के सामने बड़ी चुनौती है। जिसे खत्म करने के लिये छात्र एवं युवाओं को एसे हीं मंच की जरुरत है। पूर्व पार्षद सह सामाजिक कार्यकर्ता ध्यानी यादव ने कहा की वर्तमान में देश की हालात विकट है। जिसे छात्र एवं युवा की एकता हीं खत्म कर सकता है। राष्ट्रीय अध्यक्ष गौतम आनंद ने कहा की जेपी आंदोलन के बाद आम छात्रों का यह एक एतिहासिक आगाज है। बिहार के तमाम छात्र मिलकर ऑल इंडिया स्टूडेंट यूनियन के माध्यम से सबको शिक्षा, सस्ती शिक्षा, सबको रोजगार के लड़ाई को मुकाम तक पहुंचाने का काम करेगी। आज देश के छात्र नौजवान के लिये शिक्षा रोजगार सबसे अहम समस्या है, किंतु राजनेता सब सत्ता में आने और बने रहने के लिये बैचन है।

विज्ञापन

प्रदेश अध्यक्ष आलोक आनंद ने कहा है कि ऑल इंडिया स्टूडेन्ट यूनियन एक ऐसा छात्र संगठन है जो न कि किसी पार्टी का है और न ही किसी नेता का है। इसका मुख्य उद्देश्य है सबको शिक्षा, सस्ती शिक्षा, सबको रोजगार, मांग रहा है हिंदुस्तान। इसी उद्देश्य के साथ हमलोग बिहार के साथ-साथ देश के सभी विश्वविद्यालय में एआईएसयू को आगे बढ़ाएंगे एवं छात्र हित की आवाज उठाएंगे। राष्ट्रीय प्रभारी स्वेत कमल ने कहा कि बिहार के छात्र एवं युवाओं को बिहार की बेहतरी के लिये एक मंच पर आने की जरुरत है, लोकतंत्र और संविधान को तार तार कर दिया गया है। देश में आजादी से बड़ी लड़ाई और सहादत की जरुरत है, उसी लड़ाई का आगाज एआईएसयू के मंच से किया गया है।

विज्ञापन

राष्ट्रीय महासचिव इं मुरारी कुमार ने कहा कि देश के सभी विश्वविद्यालय के बदहाल व्यवस्था को लेकर एआईएसयू सभी विश्वविद्यालय में व्यापक रूप से अपना काम करना चालू कर देगी और शिक्षा, संघर्ष, रोजगार का नारा लेकर आगे बढ़ेंगे। उन्होंने कहा कि हम हमेशा से छात्रों के लिए निष्पक्ष भाव से लड़े हैं और लड़ते रहेंगे।


Spread the news