मधेपुरा : छात्र हित के मामलों के साथ ए आई एस एफ नेता राठौर ने की कुलपति से मुलाकात

728x90
Spread the news

छात्रों को वर्ग तक लाने के लिए ए आई एस एफ चलाएगा मुहिम  छात्रों को वर्ग तक लाने के लिए विश्वविद्यालय से कारगर पहल की मांग  ♦ प्री पी एच डी की परीक्षा में कोटे के अनुपात और फीस पर ए आई एस एफ ने जताई चिंता

अमित कुमार
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : वाम छात्र संगठन ए आई एस एफ के राष्ट्रीय परिषद् सदस्य सह विश्वविद्यालय प्रभारी हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने कुलपति वेषम में कुलपति से मुलाकात की । लगभग एक घंटे के मुलाकात में राठौर ने सर्वप्रथम कुलपति और प्रतिकुलपति को अपने कार्यकाल के दो वर्ष पूरा करने और विश्वविद्यालय को अपने नेतृत्व में कई उपलब्धि दिलाने के लिए बधाई दी और दिए बधाई सन्देश में आशा भी व्यक्त किया की शेष एक वर्ष में विश्वविद्यालय को और आगे ले जाएंगे।

इस अवसर पर राठौर ने ए आई एस एफ की ओर से कुलपति को आठ सूत्री मांग पत्र सौंपा । कुलपति को सौंपे मांग पत्र में प्री पी एच डी के फीस और पी एच डी के सीटों के निर्धारण अनुपात ,परीक्षा विभाग की कार्यशैली में बदलाव, शिविर लगाकर छात्रों के समस्या के समाधान,नए परिसर में पुलिस चौकी और कैंटीन की व्यवस्था,कई वादों के बाद भी गर्ल्स हॉस्टल शुरू नहीं होने, छात्रों को वर्ग तक लाने के लिए कारगर पहल करने, बी एस एस कॉलेज सुपौल में पीजी की पढ़ाई शुरू करवाने और तीन दिन में फाइलों के निपटारा के आदेश को पूरा नहीं होने पर कुलपति कार्यालय में ए आई एस एफ छात्र नेता राठौर ने कुलपति, प्रतिकुलपति, डी एस डब्लयू, परिसंपदा पदाधिकारी से गम्भीर चर्चा की। एक घंटे तक चले वार्ता में राठौर ने साफ शब्दों में कहा की कुलपति छात्रहित में जो भी कदम उठाएंगे उसमे ए आई एस एफ मजबूती से उनके साथ रहेगा । लेकिन छात्रहित के हनन होने पर आरपार से भी परहेज नहीं करेगा।

इस दौरान हुई वार्ता में कुलपति ने यकीं दिलाया कि जुलाई से शुरू हो रहे नए सत्र में मांगपत्र में शामिल कई मांगो को पूरा किया जाएगा। वहीं कुलपति और प्रतिकुलपति ने कहा की वर्ग तक छात्रों को लाने में छात्र संगठन भी सहयोग करें। इस दौरान छात्रहित के कई बिंदुओं पर ए आई एस एफ की ओर से कई सुझाव भी दिए गए जिसे कुलपति ने कारगर बताते हुए नए सत्र में शतप्रतिशत लागू करने की बात कही।

इस अवसर पर कुलपति से मिलने गए राठौर के साथ ए आई एस एफ के राज्य परिषद सदस्य सौरभ कुमार ने कहा की छात्रों को वर्ग तक लाने के लिए नए सत्र से ए आई एस एफ भी कई स्तरों पर पहल करेगा। वार्ता के बाद सौरभ ने कहा कि विश्वविद्यालय के रजत जयंती को ए आई एस एफ भी मनाएगा और अलग अलग आयोजनों के सहारे छात्रों को वर्ग का महत्व बताते हुए वर्ग तक लाने का प्रयास करेगा।


Spread the news