सुपौल : छातापुर में होली मिलन समारोह, आदर्श आचार संहिता और आपसी सौहार्द को ध्यान में रख कर होली मनाने की अपील

728x90
Spread the news

इरशाद आदिल 
संवाददाता
छातापुर, सुपौल

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड मुख्यालय स्तिथ मध्य विद्यालय के प्रांगण में मंगवालर को होली मिलन समारोह आयोजित किया गया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग तथा जनप्रतिनिधियो ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया। छातापुर मुखिया प्रतिनिधि संजीव कुमार भगत के संचालन में समपन्न होली मिलन समारोह कार्यक्रम में वक्ताओ ने एक जुटता दिखाते हुए पुरानी परम्परा के तहत सारे गिले शिकवे भुलाकर होली गांव से पंचायत तक खेलने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में जबरन किसी को रंग नही लगाना है।

उन्होंने कहा कि आदर्श आचारसंहिता का भी शतशत पालन करते हुये सभी होली मनाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रशासन के बतायें दिशा निर्देश पर चलकर सभी को धूम धाम से होली मनानी है। इसके अलावे होली टीम भी इस बार निकालने का निर्णय लिया गया,जिसमे बच्चे ,बूढ़े और जवान की भागीदारी निश्चित रूप से रहने का निर्णय लिया गया।

व्यपार संघ अध्यक्ष केशव कुमार साह उर्फ गुड्डू ने कहा कि होली बुराई पर अच्छाई का प्रतीक है। होली में सभी सारे भेदभाव ,गिले शिकवे, उच नीच, जाति प्रथा, दल गल निति, अमीरी गरीबी को भूलाकर होली का लुप्त उठाये। सारे समरसता को भूल कर रंग गुलाल के साथ अपने से जुड़कर समाज में फैले बुराई को हटाकर अच्छाई लाने के लिए कृतसंकल्पित हो।

वही व्यपार मंडल अध्यक्ष गौरीशंकर भगत ने कहा कि रंगों का त्यौहार अपने से मिलकर लम्बे समय से बनी दुरी को ख़त्म करने का पर्व है। इसके तहत सभी अपने पराये के घर जाकर छोटे बड़े को रंग गुलाल लगाकर सुभाषिश दे और आशीर्वाद ले। कार्यक्रम में मुख्य रूप से राम टहल भगत, शालिग्राम पाण्डेय, शिव कुमार भगत, गुड्डू खान, चंदन कुमार राम, मो मेउद्दीन, मंटू दास, नागेंद्र मंगरैता सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे ।


Spread the news