वैशाली : जिला व्यवहार न्यायालय द्वारा विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन 

728x90
Spread the news

नसीम रब्बानी
ब्यूरो चीफ, वैशाली

वैशाली/बिहार : जिले के महुआ प्रखंड अंतर्गत मोहनपुर धनराज उर्फ खीराचक गांव स्थित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 177 पर बिहार राज्य विधिक सेवा प्राधिकार, पटना के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकार, व्यवहार न्यायालय, हाजीपुर, वैशाली के द्वारा विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जो स्थानीय सरपंच रंजू देवी की अध्यक्षता एवं पारा विधिक स्वयंसेवक मनीष कुमार यादव के संचालन में सम्पन्न हुआ।कार्यक्रम में जिला से आए हुए पैनल अधिवक्ता रामउदगार राय ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए बताया कि किस तरह विधिक सेवा प्राधिकार के माध्यम से गरीब एवं लाचार लोग भी कैसे अपनी लड़ाई को बिना कोर्ट फिस के लड़ सकते है।

वहीं पैनल अधिवक्ता नीरू कुमारी ने बताया कि कैसे हमारे समाज में महिलाओं के साथ भेद-भाव किया जाता है एवं उनको प्रताड़ित किया जाता है, उनके हक के लिए भी विधिक सेवा प्राधिकार कार्य करती है। वहीं उन्होंने अपने संबोधन में लोगों से अपील करते हुए कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा जो योजनाओं का क्रियान्वयन होता है वह समाज के अंतिम व्यक्ति तक नहीं पहुंच पाता है। वैसे योजनाओं को क्रियान्वयन एवं कानून की जानकारी गांव में रहने वाले अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा पारा विधिक स्वयंसेवक की बहाली की गई है जो जिला विधिक सेवा प्राधिकार और गांव के लोगों के बीच कड़ी का कार्य करते है।

वहीं पारा विधिक स्वयंसेवक मनीष कुमार यादव ने अपने संबोधन में राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं जैसे बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ, जन धन योजना, अटल पेंशन योजना, प्रधानमंत्री मंत्री जीवन ज्योति योजना, मुख्यमंत्री पोशाक राशि योजना, मुख्यमंत्री साईकल योजना, मुख्यमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना, मनरेगा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, आदि की आपलोग वंचित न हों, चाहे वह कोई भी योजना हो बस जरुरत है, आपलोगों को जागरूक होने का।

कार्यक्रम का धन्यबाद ज्ञापन पंसस पति प्रो0 वरुण कुमार वरन किया।

विधिक जागरूकता शिविर में वीरेंद्र कुमार दास, रोहित कुमार पटेल, सत्यमूर्ति सिंह, फुला देवी, आंगनवाड़ी सेविकासुधा देवी, आशा कार्यकर्ता पुष्पा कुमारी, रीता देवी, मोनी कुमारी, गणेश कुमार, सकुन्तला देवी, सरिता देवी, गोपाल कुमार, शांति देवी, आदि लोगों ने भाग लिया।


Spread the news