संपादकीय

बिहार दिवस पर “द रिपब्लिकन टाइम्स” की अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर की कलम से

22 मार्च 1912 को बंगाल प्रेसीडेंसी से अलग हो राज्य के रूप को अंगीकार करने वाले बिहार का इतिहास पग …

Read More »

कोसी के दधीचि कीर्ति बाबू के जयंती पर अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर की कलम से…

कीर्ति बाबू का नाम सुनते ही जेहन में बरबस तस्वीर बनने लगती है एक ऐसे फक्कड़ संत की जिनकी पूरी …

Read More »

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर की कलम से

आज नारी सुरक्षा संदेह के घेरे में है। वर्तमान में नारी सामाजिक न्याय से वंचित होने के साथ-साथ शोषित और …

Read More »

श्रद्धांजलि : महान गणितज्ञ डॉक्टर वशिष्ठ नारायण सिंह, गुमनाम, अपमान और सम्मान

देश में खुद के होने का प्रमाण देना पड़ता है खुद के अस्तित्व की लड़ाई लड़नी पड़ती है ऐसे देश …

Read More »

कलाम जयंती पर अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर की खास रिपोर्ट

⇒ शोहरत के धनी डॉ कलाम को दौलत की नहीं रही कभी चाहत  अबुल पाकिर जैनुलाअबदीन अब्दुल कलाम जिन्हें दुनिया …

Read More »

नारी के वर्तमान हालात पर अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर की खास प्रस्तुति

⇒ नारी अपने वास्तविक स्वरूप को पहचाने सामाजिक स्तर पर नारी  – उत्थान सम्बन्धी प्रस्तावों की लंबी कड़ी, संविधान में …

Read More »

आह ! मधेपुरा पुलिस – वाह टेक्नोलॉजी

मधेपुरा/बिहार : संचार तकनीक के बदौलत मधेपुरा पुलिस का विद्रूप चेहरा लगातार बेनकाब हो रहा है । महिला सम्मान से …

Read More »

भारत में मंदी की दस्तक – सरकार करे ये उपाय

भारत में भयावह आर्थिक मंदी ने दस्तक दे दिया है । बिना तैयारी के नोटबंदी, बड़े आर्थिक घराने द्वारा बैंकों …

Read More »

कांग्रेस – राजद की हार- कारण और निवारण

2019 के लोकसभा चुनाव में काँग्रेस को देश की जनता ने नकार दिया है। बिहार में राजद का सफाया हो …

Read More »

भारतीय संस्कृति पर बढ़ते खतरे – कारण और निवारण

अनेकता में एकता का पर्याय भारत अपनी इंद्रधनुषी सांस्कृतिक पहचान रखता है। इस मुल्क का भौगोलिक क्षेत्र वृहद होने के …

Read More »