इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन बेगूसराय के सदस्यों ने पत्रकार की हत्या पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त किया  

728x90
Spread the news

बेगूसराय/बिहार : बेगूसराय मंसूरचक प्रखंड में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन बेगूसराय इकाई की आपात बैठक प्रमंडल पदाधिकारी वरिष्ठ पत्रकार गणेश शंकर दत्त ईश्वर की अध्यक्षता एवं शमसुल कमर के संचालन में हुई। बैठक में बखरी प्रखंड के पत्रकार सुभाष कुमार को गोली मारकर हत्या कर देने पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए दो मिनट का मौन धारण रखा कर मृत आत्मा की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना किया। इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के सभी सदस्यों ने उनके परिवार वालों को इस दुःख की घड़ी में धैर्य शक्ति प्रदान करने की भी कामना किया। उसके बाद बैठक की कार्रवाई शुरू की गयी।

बैठक को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के बिहार प्रदेश सचिव पंकज कुमार झा ने संबोधित करते हुए कहा कि सुभाष कुमार की हत्या काफी ही दर्दनाक घटना हैं। बेगूसराय के पुलिस कप्तान पत्रकार सुभाष कुमार के हत्यारे को शीघ्र गिरफ्तार कर कड़ी सजा नहीं दिया गया तो इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन बिहार इकाई के बैनर तले प्रखंड से लेकर विधानसभा,संसद भवन तक अनिश्चित कालीन वृहद आंदोलन करने के लिए बाध्य होगी.उन्होंने  पत्रकार सुभाष कुमार के परिवार वालों को भरन पोषण के लिए  10 लाख रूपये आर्थिक सहायता, आश्रित परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने एवं बिहार के सभी पत्रकारों को सुरक्षा की गारंटी करने,जो पत्रकारों को सुरक्षा हेतु आर्म्स का लाईसेंस दिये जाने की जोरदार मांग बिहार सरकार एवं केन्द्र सरकार से किया हैं।

दूसरी तरफ इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन बिहार के प्रदेश अध्यक्ष रंजीत सम्राट एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज  कुरैशी ने भी दूरभाष पर पत्रकार सुभाष कुमार के निर्मम हत्या पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए उनके हत्यारे को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग पुलिस कप्तान एवं सरकार से की हैं। बैठक को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के सदस्य पत्रकार रीतेश रंजन,लक्ष्मण कुमार शर्मा,शमसुल कमर,मो.अब्दुल कादिर,समाजसेवी अमीत कुमार गुप्ता उर्फ किराना अन्य ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि बिहार में बराबर ही पत्रकारों पर हमला होती ही रहती हैं और सरकार कोई ठोस कदम उठाने में विफल साबित हो रही हैं। ऐसी स्थिति में लोकतंत्र भी असुरक्षित महसूस कर रहा हैं। उक्त पत्रकारों ने कहा सुभाष कुमार के हत्यारे को अविलंब पुलिस अपने हिरासत में लेकर हत्यारे जेल के अंदर बंद करें अन्यथा पत्रकार वृहद आंदोलन चलाने को बाध्य होगी।

बैठक में सुमित कुमार ब्यूरो चीफ़ राष्ट्रीय सहारा, लक्षमण कुमार शर्मा , शमसुल कम़र, रीतेश रंजन, मो. अब्दुल कादिर,मो. शकील, नलिन रंजन, असजद अली, राजेश कुमार आदि पत्रकार गण उपस्थित रहें।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें