प्रो रतन लाल के समर्थन में छात्र संगठन, पीएम मोदी का पुतला फूंका

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : दिल्ली विश्वविद्यालय अंतर्गत हिंदू महाविद्यालय के प्रो रतन लाल के समर्थन में शनिवार को भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय परिसर में भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के बैनर तले दिल्ली पुलिस एवं सरकार पर जमकर नारेबाजी करते हुए भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया. भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के विश्वविद्यालय अध्यक्ष मुन्ना कुमार पासवान ने कहा कि प्रो रतन लाल, जो दिल्ली विश्वविद्यालय के प्राध्यापक हैं, उनपर ज्ञानवापी मस्जिद में शिवलिंग मिलने के दावे को लेकर सोशल मीडिया में न्याय संगत बातों का पोस्ट करने पर, धार्मिक भावनाओं पहुंचाने का दिल्ली पुलिस ने केस दर्ज कर दिया. जिसके बाद शुक्रवार की रात प्रो रतन लाल को गिरफ्तार कर लिया गया, जो अत्यंत निंदनीय है.

उन्होंने कहा कि सत्ता एवं व्यवस्था का लगातार तेजी से निरंकुश होने का यह ठोस उदाहरण है. जिस तरह निराधार आरोपों में प्रो रतन लाल को रात के अंधेरे में हिरासत में लिया गया है, वह किसी लोकतांत्रिक समाज में संभव नहीं है. हम मांग करते हैं कि प्रो रतन लाल को अविलंब रिहा किया जाये. मौके पर सुमन कुमार यादव ने कहा कि प्रो रतन लाल के साथ जो हुआ है, वह लोकतांत्रिक देश में संभव नहीं है. हरेराम भगत ने कहा कि सरकार यह तय करें कि आम अवाम को किस चीजों पर बात करनी चाहिये या किस चीजों पर नहीं करनी चाहिये. दरअसल यह बहुत गंभीर मामला है. हम बातचीत ही नहीं करें तो क्या करें. हमें सरकार बतायें कि अगर हम कोई बात करें तो भावनायें आहत हो जायेगी तो हम क्या करें. शिव शंकर राम ने कहा कि ऐसा मामला जहां भी होगा हम छात्र एवं शिक्षक एकता को दिखायेंगे. साथ ही साथ प्रतिकार किया जायेगा एवं लड़ा भी जायेगा. अबूजर खान ने साफ-साफ कहा कि इसी देश में दलित की नाले के अंदर दबकर मौत हो जाती है. इसी देश के अंदर सैकड़ों मजदूर भूखे मर जाते हैं. पिछले सप्ताह दिल्ली में सैकड़ों मजदूर जलकर मर गये. उसमें इनकी भावना आहत नहीं होती है.

आइसा के विश्वविद्यालय अध्यक्ष अरमान अली ने कहा कि दलित पर दमन होता है तो इनकी भावनायें आहत नहीं होती है. उन्होंने कहा कि इनका कोई भावना आहत नहीं हुआ है, बल्कि सिंहासन आहत हो रहा था, इसलिए प्रो रतन लाल को गिरफ्तार कर लिया गया है.

मौके पर उपस्थित छात्र सनी कुमार, पावेल कुमार, मनीष कुमार, कुंदन कुमार, विनीत कुमार, दीपक कुमार, नवीन कुमार, गौरव कुमार, नीतीश कुमार, विजय, श्याम, राजीव समेत अन्य छात्र उपस्थित थे.

बिनीत कुमार बबलू
संवाददाता, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें