बिहार दिवस पर कलाकारों ने दी बिहार गौरव गान की गीत प्रस्तुति

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : मंगलवार की देर शाम बिहार के 110वें स्थापना दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय स्थित कला भवन में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. सांस्कृतिक कार्यक्रम का उद्घाटन उप विकास आयुक्त नितिन कुमार सिंह, एडीएम रवींद्रनाथ प्रसाद सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी नीरज कुमार, एनडीसी राजीव रंजन एवं समाजसेवी सह साहित्यकार डा भूपेंद्र नारायण यादव मधेपुरी ने दीप प्रज्वलित कर किया. मौके पर उपस्थित कलाकारों एवं अन्य लोगों को संबोधित करते हुए विकास आयुक्त नितिन कुमार सिंह ने कहा कि बिहार ज्ञान व मोक्ष की धरती है. ज्ञान का प्रकाश यहां से सारी दुनिया में फैला है. जरूरत है अपने इतिहास एवं धरोहर का संरक्षण करें. उन्होंने कहा कि यह विश्व का प्रथम लोकतंत्र के साथ अहिंसा, सद्भाव, करूणा एवं प्रेम का संदेश देने वाली धरती है. सदर अनुमंडल पदाधिकारी नीरज कुमार ने कहा कि हमें बिहार को उसी गौरवशाली ऊंचाई तक पहुंचाना है. बिहार के विकास के बगैर भारत का इतिहास अधूरा है.

बिहार के इतिहास एवं कला व संस्कृति को कलाकारों ने मंच पर किया प्रदर्शित : सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान स्थापित एवं नवोदित कलाकारों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी. इसमें कलाकारों ने कला के अलग-अलग रंग बिखेरे. किसी ने देश की आजादी में बिहार के योगदान को बताया तो किसी ने बिहार की कला व संस्कृति को मंच पर प्रदर्शित किया. संगीत शिक्षिका शशि प्रभा जायसवाल बिहार गौरव गान से कार्यक्रम की शुरुआत की. जिसके बाद राजीव रंजन उर्फ भोला के द्वारा भजन की प्रस्तुति दी गई. प्रो रीता यादव के द्वारा स्वरचित गीत व गजल, अरुण कुमार बच्चन के द्वारा उपशास्त्रीय गायन, गीत, भजन व गजल, रेखा कुमारी के द्वारा लोकगीत, सृजन दर्पण के द्वारा समूह लोक नृत्य, सुनीता साना एवं साथी के द्वारा समूह लोकगीत, रोशन कुमार के द्वारा लोकगीत व गजल, कला मंदिर के वकील वाका एवं साथी के द्वारा नृत्य, हिप-हॉप डांस एकेडमी के बच्चों द्वारा देशभक्ति गीतों पर नृत्य, इप्टा के सुभाष चंद्र द्वारा नृत्य नाटिका, प्रो राजीव कुमार के द्वारा शास्त्रीय गायन, डा योगेंद्र भारती के द्वारा ख्याल एवं गायन तथा बाबा गंगा दास के द्वारा नशा उन्मूलन पर नाटक की प्रस्तुति दी गई. कार्यक्रम का मंच संचालन पृथ्वीराज यदुवंशी ने किया. कार्यक्रम के अंत में जिला प्रशासन की ओर से सभी कलाकारों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया.

कलाकारों ने दी बिहार गौरव गान की गीत प्रस्तुति : 22 मार्च को हर वर्ष बिहार दिवस के रूप में मनाया जाता है. इस वर्ष 110 वां बिहार दिवस के अवसर जिलास्तरीय समारोह का आयोजन किया गया. समारोह जिले के तमाम दिग्गज कलाकारों ने शिरकत कर अपनी प्रस्तुति दी. संतोष राजा, युवा गायक व कोरोना योद्धा सुनीत साना एवं गरिमा उर्विशा की टीम ने इस समारोह में स्वरचित बिहार गौरव गान गाकर लोगों को बिहार गाथा सुनाई. इस बिहार गौरव गान के बोल संतोष राजा एवं गरिमा उर्विशा ने संयुक्त रूप से लिखे. मंच पर संतोष राजा, सुनीत साना, सुष्मिता भारती, वीणा देवी, काजल खातून, सोनम कुमारी ने प्रस्तुति दी. प्रस्तुति के दौरान तबला पर प्रो अरविंद कुमार ने संगत किया.

बिनीत कुमार बबलू
संवाददाता, मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें