हर्षोल्लास के साथ मनाई गई स्वामी विवेकानंद की जयंती 

728x90
Spread the news

उदाकिशुनगंज/मधेपुरा/बिहार : भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर विज्ञान संकाय के काउंसिल मेंबर सह आंतरिक परिवाद समिति सदस्य बिट्टू कुमार की अध्यक्षता में स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई गई।

मौके पर काउंसिल मेंबर बिट्टू कुमार ने कहा कि आज लोगों को जागरूक होने कि जरूरत है, खासकर युवा पीढ़ी को तब तक संघर्ष जारी रखना चाहिए जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो जाये। हर मनुष्य के भीतर ऊर्जा मौजूद होती है, ऐसे में उस ऊर्जा को सही दिशा में लगाना बहुत जरूरी है। खासतौर पर युवाओं को अपनी ऊर्जा को समाज कल्याण के लिए सही दिशा में लगाना आवश्यक है। हर साल स्वामी विवेकानंद जी की जयंती को युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। ऐसे में, खुद को सकारात्मक ऊर्जा के संचार करने के लिए स्वामी विवेकानंद जी के विचारों को जानना युवाओं के लिए बहुत ही जरूरी है। सच्चाई के लिए त्याग की भावना युवा में होना जरूरी है| सन 1897 में मुद्रास में युवाओं को संबोधित करते हुए कहा था “जगत में बड़ी बड़ी विजयी जातियाँ हो चुकी है।”   एक विचार लो,  उस विचार को अपना जीवन बना लो – उसके  बारे में सोचो, उसके सपने देखे,  उस विचार को जियो। अपने मस्तिष्क, मांसपेशियों, नसों में उस विचार के अलवा अन्य कोई विचार मत रखो।  इसके  अलावा उन्होंने ये  भी कहा “आप किसी को दोष मत दीजिए, अगर अपने हाथ आगे बढ़ाकर किसी की मदद कर सकते हैं, तो कीजिए, अगर – कर सकते हैं, तो कीजिये, अगर नहीं कर सकते हैं, तो अपने हाथ बांधकर खड़े हो जाइऐ”.

इस मौके पर छात्र नेता भूषण कुमार, मंटू यादव, मनोरंजन कुमार, दीपक कुमार, मनीष कुमार, आशीष कुमार, नीरज आदि  मौजूद थे।

वहीं दूसरी तरफ आलमनगर प्रखंड क्षेत्र के भागीपुर में नेहरू युवा केंद्र के तत्वाधान में युवाओं ने स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा  दिवस के रूप में हर्ष उल्लास के साथ मनाई । कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे  नेहरू युवा केंद्र के आलमनगर प्रखंड कोऑर्डिनेटर ने कहा कि युवा ही देश का भविष्य है।

मौके पर सन्नी कुमार, विनोद, आशीष, शिवम्,  रामकुमार, सौरव, मनीष, अमर आदि उपस्थित थे।

प्रिंस कुमार बिट्टू
संवाददाता, उदाकिशुनगंज

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें