शिक्षक नियोजन में धांधली का आरोप, इंसाफ नहीं मिलने पर मुख्यमंत्री के सामने आत्मदाह की धमकी  

Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : बिहार में कई जगहों पर अभ्यर्थियों द्वारा लगातार शिक्षक बहाली काउंसिलिंग में धांधली का आरोप लगाया जा रहा है, मधेपुरा में भी एक अभ्यर्थी शैलेंद्र कुमार द्वारा शिक्षक बहाली काउंसिलिंग में धांधली का आरोप लगाया जा रहा है।

advertisement

इस संबंध में अभ्यर्थी शैलेंद्र कुमार ने बताया कि मधुबन पंचायत के द्वारा हॉली क्रॉस विद्यालय में प्रारंभिक शिक्षक नियोजन को लेकर हो चल रहे छठे चरण के काउंसिलिंग के दौरान एक अभ्यर्थी अंकित आनंद द्वारा स्वतंत्रता सेनानी कोटि में आवेदन नहीं किया था, जिसका साक्ष्य मेघा सूची में भी अंकित है, फिर भी रिश्वत और पैरवी के बदौलत उन्हें काउंसिलिंग लेटर दिया गया, अभ्यर्थी शैलेंद्र कुमार का कहना है कि उनके द्वारा आरोप लगाते हुए इस संबंध में लिखित आवेदन जिला पदाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को दिया गया, जिसकी जांच पड़ताल करने के बाद प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी और पंचायत सचिव ने भी लिखित रूप से दिया है कि अंकित आनंद पिता विरेन्द्र कुमार मेहता ने स्वतंत्रता सेनानी के कोटि में आवेदन नहीं किया, जिसका साक्ष्य उपलब्ध है ।

अभ्यर्थी शैलेंद्र कुमार का कहना है कि अनियमितता का साक्ष्य उपलब्ध होने के बावजूद भी अभी तक कोई कार्रवाई जिला शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा नहीं किया गया है, जिससे यह प्रतीत होता है की जिला शिक्षा पदाधिकारी किसी के दबाव में आकर काम कर रहे हैं,  और अभ्यर्थियों को परेशान किया जा रहा है। अभ्यर्थी शैलेंद्र कुमार ने कहा कि अगर इस मामले में दोषियों पर कारवाई नहीं की गई तो मैं मुख्यमंत्री के सामने आत्मदाह कर लूँगा।  

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें