विकलांग युवक को पैर से मारना थानाध्यक्ष को पर गया मंहगा, वायरल वीडियो के आधार पर एसपी ने किया लाइन हाजिर

Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co
728x90
Spread the news

सारण/बिहार : लॉकडाउन का पालन कराने के दौरान कुछ पुलिस पदाधिकारी और पुलिसकर्मी का क्रूर चेहरा इस दिनों काफी देखने को मिल रहा है, ऐसे पुलिस वाले ना सिर्फ वर्दी की गरिमा को धूमिल करते हैं बल्कि मानवता को कलंकित करने का भी काम करते है, इस तरह के पुलिस वाले का क्रूर चेहरा सोशल मीडिया पर भी खूब वायरल हो रहे हैं, लेकिन कभी कभी ऐसे पुलिस वालों की हेकड़ी तब निकल जाती है जब उसका क्रूर चेहरा उनके वरीय पदाधिकारी को सोशल मीडिया के माध्यम से देखने को मिल जाता है। ऐसा ही एक ताजा मामला बिहार के सारण जिला में देखने को मिला जहां के पुलिस कप्तान ने लॉकडाउन के दौरान एक थानाध्यक्ष को एक विकलांग युवक पैर से मारने के मामले में लाइन हाजिर कर दिया ।   

जानकारी अनुसार सारण जिला के दिघवारा थाना अंतर्गत शीतलपुर बाजार पर लॉकडाउन का पालन कराने के दौरान दिघवारा थाना अध्यक्ष के द्वारा एक विकलांग को पैर से मारना महंगा पड़ गया है. सारण एसपी ने सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के आधार पर त्वरित कार्रवाई करते हुए दिघवारा थानाध्यक्ष दिनेश कुमार दास को पद से हटाते हुए लाइन हाजिर कर लिया है. इस मामले में एसपी श्री कुमार ने बताया कि ऐसे अशोभनीय कृत्य से पुलिस की छवि धूमिल होती है. जिसको लेकर वायरल वीडियो की जांच कराई गई।Photo : www.therepublicantimes.coPhoto : www.therepublicantimes.co

वीडियो में यह पाया गया कि दिघवारा थानाध्यक्ष दिनेश कुमार दास के द्वारा लॉकडाउन उल्लंघन मामले में विकलांग दुकानदार के साथ मारपीट के बाद उसे पैर से मारा गया है. जिस पर त्वरित कार्रवाई करते हुए उन्हें तत्काल पद से हटाते हुए पुलिस लाइन में हाजिर किया गया है। उन्होंने बताया कि ऐसा व्यवहार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, अगर जनता के सामने ऐसा कोई भी मामला सामने आता है तो वे साक्ष्य के साथ उन्हें इसकी जानकारी दें, जिस पर कार्रवाई की जाएगी।  बताते चलें कि दिघवारा थानाध्यक्ष के द्वारा क्षेत्र के शीतलपुर बाजार स्थित भारतीय स्टेट बैंक के समीप कई दुकानों को खुले पाया गया. उस दौरान दुकानदार और पुलिसकर्मियों के बीच किसी बात पर बहस हो गई. इसके बाद पुलिस वालों ने एक दिव्यांग दुकानदार को पहले जमकर पीटा और फिर उसे घसीटकर पीटा गया. इस दौरान दिघवारा थाना अध्यक्ष के द्वारा उस दिव्यांग को भी मारा गया जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हुआ और वायरल वीडियो के आधार पर जांच कराकर एसपी के द्वारा यह कार्रवाई की गई है।


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें