BNMU : सीनेट सभा ने साढे छह अरब का बजट पारित

728x90
Spread the news

मधेपुरा/बिहार : मंगलवार को भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय के सीनेट की वार्षिक बैठक में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए पांच अरब 65 करोड़ 35 लाख एक हजार 235 रूपए घाटे की बजट राज्य सरकार के पास भेजने के लिए मंजूरी दी गई. इसके पहले सदन में प्रतिकुलपति प्रो डा आभा सिंह ने सदन में छह अरब 45 करोड़ 60 लाख 57 हजार 617 रूपए का बजट पेश किया. कुल पांच पेज के बजट अभिभाषण काे प्रतिकुलपति ने लगभग दो मिनट तक पढ़ा. इस दौरान डेढ़ पेज ही बजट अभिभाषण पढ़ा गया और सदस्यों ने ध्वनिमत से बजट पारित कर दिया. इसमें 80 करोड़ 25 लाख 56 हजार 382 रूपए विश्वविद्यालय की ओर से आंतरिक श्रोत से आमदनी होने का ब्यौरा प्रस्तुत किया गया.

सदस्यों ने सदन में रखा अपने-अपने प्रश्न : सीनेट की बैठक में कुलपति के अध्यक्षीय अभिभाषण पर विभिन्न सदस्यों ने अपनी बात रखी. साथ ही सदस्यों ने अपने-अपने प्रश्न भी सदन में रखा. हिंदी विभागाध्यक्ष डा उषा सिन्हा द्वारा अधिषद की बैठक 22 फरवरी 2020 की कार्रवाई की संपुष्टि प्रस्ताव रखा. डीएसडब्लू डा अशोक कुमार यादव अधिषद की बैठक 22 फरवरी 2020 में लिये गये निर्णय का अनुपालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया. बीएनएमभी काॅलेज मधेपुरा के प्राचार्य डा केएस ओझा वार्षिक प्रतिवेदन 2019-2020 के अनुमोदन का प्रस्ताव रखा. भौतिकी विभागाध्यक्ष डा अशोक कुमार द्वारा वित्तीय वर्ष 2019-2020 के वास्तविक आय-व्यय का लेखा प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया. एमएलटी काॅलेज सहरसा के प्राचार्य डा डीएन साह द्वारा विभिन्न प्राधिकारों, निकायों व समितियों के कार्यवृत का अनुमोदन प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया. मैथिली विभाग के पूर्व अध्यक्ष डा रामनरेश सिंह विभिन्न महाविद्यालयों के संबंधन, नवसंबंधन, संबंधन दीर्घीकरण एवं पदसृजन का प्रस्ताव प्रस्तुत किया. डा जवाहर पासवान द्वारा अधिषद सदस्यों से प्राप्त प्रश्नों के उत्तर की प्रस्तुति की.

advertisement

अंत में लेफ्टिनेंट गौतम कुमार द्वारा शोक प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया. संचालन कुलसचिव डा कपिलदेव प्रसाद ने किया.

बैठक में लिये गये निर्णय का प्रस्तुत किया गया अनुपालन प्रतिवेदन : इसके पूर्व कुलपति के अभिभाषण पर विभिन्न सदस्यों ने धन्यवाद प्रस्ताव रखा. बैठक में गत बैठक की संपुष्टि, गत बैठक में लिये गये निर्णय का अनुपालन प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया. इस पर विभिन्न सदस्यों ने गहन विचार-विमर्श किया. अंत में राष्ट्रीय  गान जन-गण-मन के सामूहिक गायन के साथ बैठक संपन्न हुई.

बैठक में विधायक द्वय गुंजेश्वर साह एवं नीरज कुमार सिंह बबलू, डा रामनरेश सिंह, डा संजीव सिंह, जवाहर झा,  गौतम कुमार, रंजन यादव, प्रमोद कुमार, डा जवाहर पासवान, डा रीता सिंह, डा केपी यादव, डा राजीव कुमार सिन्हा, रेणु सिंह, अरविंद कुमार, लंबोदर झा, उषा सिंह, अभिनंदन यादव, सुभाष झा, शोभाकांत कुमार, अशोक कुमार सिंह, डा अरुण खां, जयकृष्ण प्रसाद यादव, पूर्व कुलपति दिनेश यादव, संजीव कुमार सिंह, नूतन सिंह, नरेश कुमार, शैलेश्वर प्रसाद, विपिन कुमार सिंह, प्रमोद कुमार चंद्रवंशी, मनीषा रंजन, रियांशी गुप्ता, डा ज्ञानदेव मणि त्रिपाठी आदि मौजूद थे

कार्यक्रम के आयोजन में अकादमिक निदेशक प्रो डा एमआई रहमान, उपकुलसचिव अकादमिक डा सुधांशु शेखर, कुलपति के निजी सहायक शंभू नारायण यादव, पृथ्वीराज यदुवंशी, बिमल कुमार आदि ने सहयोग किया.

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें