राजेश कुमार तिवारी को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन मेजा तहसील अध्यक्ष नियुक्त किया गया

Spread the news

 प्रयागराज/उत्तर प्रदेश  

प्रेस विज्ञप्ति : इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज अहमद कुरैशी की संस्तुति व प्रदेश अध्यक्ष गिरिराज सिंह व पूर्वांचल प्रदेश महासचिव सलमान अहमद सिद्दीकी के दिशा निर्देश पर उत्तर प्रदेश जनपद प्रयागराज में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन जिला अध्यक्ष प्रयागराज मो.रिजवान के नेतृत्व में जिला महासचिव राधे कृष्ण तिवारी द्वारा मेजा तहसील के वरिष्ठ पत्रकार राजेश कुमार तिवारी को तहसील अध्यक्ष नियुक्त किया गया। एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष मोहम्मद रिजवान की उपस्थिति में संगठन विस्तार, सदस्यता अभियान समेत बैठक की समीक्षा पर चर्चा की गई।

Read More :-बंद पड़े पेट्रोल पंप में दसवीं की छात्रा के साथ सामुहिक बलात्कार

इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन प्रयागराज की जिला स्तरीय कार्यकारिणी पदाधिकारी व सदस्य मेजा तहसील क्षेत्र के पत्रकारों से विचार-विमर्श कर आवश्यक बैठक में निर्णय लिया गया।

एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष मो. रिजवान, जिला महासचिव राधे कृष्ण तिवारी, जिल सचिव रंजीत निषाद, सदस्य अफरोज सिद्दीकी, आशुतोष तिवारी राहुल मिश्रा, विनय मिश्रा इत्यादि प्रमुख रुप में उपस्थित हुए।

पूर्वांचल प्रदेश के महासचिव सलमान अहमद सिद्दीकी के दिशा निर्देश पर जिला अध्यक्ष प्रयागराज मो.रिज़वान व आए हुए सभी सदस्यों ने नवनियुक्त मेजा तहसील अध्यक्ष राजेश कुमार तिवारी का स्वागत व अभिनंदन किया।

Read More :-बंद बक्से में अधेड़ की लाश मिलने से इलाके में सनसनी, जांच में जुटी पुलिस

वहीं जनपद प्रयागराज  के मेजा तहसील अध्यक्ष मनोनीत होने के बाद राजेश कुमार तिवारी जी ने सबसे पहले इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष जनाब सेराज अहमद कुरैशी का आभार प्रकट किया एवं पूर्वांचल प्रदेश महासचिव, जिला अध्यक्ष व सभी सदस्यों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

नवनियुक्त मेजा तहसील अध्यक्ष राजेश कुमार तिवारी ने आश्वासन देते हुए कहा वह अपने पद पर रहकर इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन को आगे बढ़ाने का कार्य करेंगे और पत्रकार एकता और अखंडता को कभी टूटने नहीं देंगे और सभी पत्रकार साथियों को इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के झंडे के नीचे आने का आवाहन किया और कहा कि सभी सदस्य इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन से जुड़े ताकि पत्रकार एकता आवाज को बुलंद करते हुए पत्रकार पर हो रहे उत्पीड़न, हमलों और हत्याओं पर  संघर्ष कर विराम लगाया जा सके और न्याय दिलाया जा सके।


Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें