सुपौल : छातापुर में दिखा भारत बंद का असर, समर्थन में सड़क पर उतरे सभी विपक्षी दलों के कार्यकर्ता

728x90
Spread the news

रियाज खान
संवाददाता
छातापूर/सुपौल

छातापुर/सुपौल/बिहार : केंद्रीय कृषि कानुन के विरोध में मंगलवार को आहूत भारत बंद के समर्थन में महागठबंधन सहित सभी विपक्षी दलों ने एकजूटता का परिचय देते हुए प्रखंड मुख्यालय बाजार में कार्यकर्ताओ ने हाथ में झंडा व बैनर लिये सड़क पर उतरे और दुकानों को बंद कराते केंद्र सरकार के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की।

महागठबंधन कार्यकर्ताओं में मुख्य रूप राजद के विधानसभा प्रत्याशी डॉ बिपिन कुमार सहित कांग्रेस के ललन यादव, राजद के जिला उपाध्यक्ष रामेश्वर प्रसाद उर्फ रमेश यादव, भाकपा अंचल सचिव रघुनंदन पासवान के अलावे सेकड़ो कार्यकर्ताओं ने बंद के दौरान चकबंदी चौक और थाना के बीच एस एच 91 पर अवरोधक डालकर चक्का जाम कर दिया और तकरीबन दो घंटे तक बीच सड़क पर ही धरने पर बैठे रहे। बंद और आवागमन बाधित होने के कारण आमजनों व मुसाफिरों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। बंद समर्थकों ने मुख्य बाजार, बस पङाव, हॉस्पीटल चौक, ब्लाॅक चौक, हाईस्कूल चौक की दुकानों को बंद कराया। साथ ही वित्तीय संस्थानों एवं सरकारी दफ्तरों पर भी बंद का असर देखा गया। विपक्षी दल के नेताओं ने तीनों कृषि कानूनों को किसान विरोधी बताते अविलंब इसे वापस लेने की मांग की। नेताओं के द्वारा प्रखंड कार्यालय पहुंचकर महामहिम राज्यपाल को नामित स्मारपत्र बीडीओ को समर्पित किया गया।

भारत बंद के समर्थन में माले नेता धर्मदेव यादव, पूर्व प्रमुख धीरेंद्र प्रसाद यादव, विजय प्रकाश यादव, उदित नारायण यादव, सुशील कुमार मंडल, मजहरूल हक खान, अकील अहमद, घनश्याम राम, सकलदेव राम, शौकत अलि, गजेंद्र कुमार राम, नंदकिशोर यादव, सुरेंद्र यादव, रंजय मसैता, मो कलीम, महेंद्र यादव, शिवनंदन यादव, सहदेव यादव, अखिलेश मिश्र, झब्बर यादव, मो समशाद, रामेश्वर यादव, अभिषेक कुमार आदि शामिल थे। वहीं महद्दीपुर बाजार में भारत बंद के समर्थन में एआईएमआईएम के खादिम ए मजलिस खलीकुल्लाह अंसारी के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने अपने अपने हांथो में बैनर पोस्टर लेकर बाजार के दूकानों को बंद कराते हुए केंद्र सरकार के विरूद्ध जमकर नारेबाजी की । 


Spread the news

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें