मधेपुरा : आज सभी क्षेत्रों में दिव्यांग सामान्य लोगों से कंधा से कंधा मिलाकर कर रहे हैं कार्य : एसडीएम

Spread the news

अमन कुमार
संवाददाता, सदर
मधेपुरा

मधेपुरा (बिहार) : विश्व दिव्यांगता दिवस के अवसर पर गुरुवार को जिला मुख्यालय स्थित बीएन मंडल स्टेडियम में बिहार शिक्षा परियोजना के द्वारा दिव्यांग बच्चों के लिए खेलकूद एवं शैक्षणिक तथा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया. जिसमें जिले भर के बालक-बालिकाओं ने भाग लिया. कार्यक्रम का उद्घाटन सदर अनुमंडल पदाधिकारी नीरज कुमार, डीपीओ सर्व शिक्षा गिरीश कुमार, डीपीओ मध्यान भोजन शिव शंकर मिस्त्री, मेडिकल कॉलेज के चिकित्सक दा अखिलेश कुमार, संभाग प्रभारी पूनम कुमारी द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करके किया गया. मौके पर सदर अनुमंडल पदाधिकारी नीरज कुमार द्वारा दिव्यांग बच्चों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा गया कि संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा आज का दिन दिव्यांग बच्चों को समर्पित है.

सभी क्षेत्रों में दिव्यांग जनों ने देश का नाम किया है रौशन
सदर एसडीएम ने कहा कि भारत ही नहीं पूरे विश्व में आज का दिन दिव्यांग जनों को समर्पित किया गया है. धीरे धीरे समाज की जो मानसिकता थी की दिव्यांग लोग सभी कार्य करने में सक्षम नहीं है, लेकिन तकनीक के सहारे और लोगों की मानसिकता अब बदलने लगी है. आज सभी क्षेत्रों में दिव्यांग लोग कार्य कर रहे हैं और सामान्य लोगों से कंधा से कंधा मिलाकर चल रहे हैं. कई जगह पर दिव्यांग लोगों के सफलता की कहानियां भी सुनी जा रही है. सभी क्षेत्रों में इन लोगों ने देश का नाम रोशन किया है. चाहे वह खेलकूद हो, पढ़ाई-लिखाई का क्षेत्र हो, सेवा का क्षेत्र हो या फिर विदेशों में जो देश का प्रतिनिधित्व करता है, उसमें भी आज दिव्यांग लोग कार्य कर रहे हैं. यह हम लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि सभी लोग उनको मौका दें. जिससे वह हमारे बराबरी के मंच पर आ सकें और अपनी जिंदगी को पूर्ण रूप से जी सकें. सरकार और जिला प्रशासन इस कार्य के प्रति पूरी तरह से कटिबद्ध है.
आयोजन में दिव्यांग बच्चे की, की गई अधिक से अधिक भागीदारी
डीपीओ सर्व शिक्षा गिरीश कुमार ने कहा कि दिव्यांग दिवस के अवसर पर बिहार शिक्षा परियोजना बिहार पटना की ओर से दिव्यांग बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए शैक्षणिक गतिविधि, खेलकूद, सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया गया है. इस आयोजन में दिव्यांग बच्चे की अधिक से अधिक भागीदारी की गई है. जिससे इनको समाज के मुख्यधारा में जोड़ा जा सके. प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों को पुरस्कृत कर उनके मनोबल को बढ़ाया जा रहा है, ताकि आगे चलकर यह बच्चे अधिक से अधिक प्रतियोगिताओं में भाग लें और समाज के सारे कार्यों में इनकी हिस्सेदारी बने. प्रतियोगिता में विजेता प्रतिभागियों को मेडल तथा स्वेटर देकर डीपीओ के द्वारा सम्मानित किया गया. समारोह में चम्मच निंबू रेस, संगीत, चित्रांकन, म्यूजिकल चेयर का आयोजन किया गया. कार्यक्रम का मंच संचालन पवन कुमार ने किया. मौके पर मनीष कुमार, ब्रजेश कुमार, नागेंद्र कुमार, विनय, ओमप्रकाश, रितेश, मृत्युंजय, मिथिलेश, प्रशांत, असीम, संजय समेत अन्य लोग उपस्थित थे.

Spread the news
advertise

कोई जवाब दें

कृपया अपना जवाब दीजिये।
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें