सुपौल : छठ पूजा को लेकर छातापुर थाना परिसर में शांति समिति की बैठक

728x90
Spread the news

रियाज खान, की रिपोर्ट

छातापुर/सुपौल/बिहार : लोक आस्था के महापर्व छठ पूजा को लेकर मंगलवार को थाना परिसर में शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता पदाधिकारी द्वय एसडीएम शेख जियाउल हसन, एडीपीओ गणपति ठाकुर ने किया। एसडीएम श्री हसन ने बैठक में शामिल थाना क्षेत्र के पंचायत जनप्रतिनिधियों और बुद्धिजीवियों से छठ घाटों के बारे में जानकारी लिया। प्रशासनिक स्तर से छठ घाटो की साफ सफाई और लाइट की प्रबंध होने की जानकारी भी लिए। लोगो ने बताया कि छठ घाटों की साफ सफाई और लाइट का प्रबंध प्रशासनिक स्तर से नही किया जाता है। लोग अपने स्तर से घाट की सफाई करते है। सुरसर नदी, गेड़ा नदी,और छोटी बड़ी तालाब एवं नहर में बड़ी संख्या में छठ पर्व मनाया जाता है। इसके अलावा नदी से दूर दराज के गांवो में पोखरा और गाढ़ा खोदकर भी मनाया जाता है।

स्थानीय जनप्रतिनिधियों की बातों को सुनने के बाद एसडीएम श्री हसन ने लोगों विभागीय निर्देशानुसार कोविड 19 और सोसलडिस्टेंसिग का पालन करते हुए लोक आस्था का सबसे महापर्व छठ को आपसी भाईचारा शांति सौहार्द शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने की अपील की। उन्होंने यह भी बताया कि सोशल डिस्टेंस को लेकर लोगो से प्रेरित करें कि लोग आस्था का पर्व अपने दरवाजे पर मनाए, वहीं सार्वजनिक स्थानों पर छठ पर्व मनाए जाने को लेकर खासकर पंचायत के जनप्रतिनिधि मुखिया, समिति, जीप सदस्य यह ध्यान रखें कि लोग सोशल डिस्टेंस का पालन कैसे करें इसको लेकर मूल्य रूप से मुखिया द्वारा अपने अपने पंचायतो के सभी घाटों पर सेनिटाइजर, बिलीचिंग पाऊडर और मास्क व्यवस्था अपने मुखिया अपने स्तर से कराएंगे ।

उन्होंने बताया कि बैठक में मौजूद आरडीओ अजित कुमार सिंह एवं सीओ सुमित कुमार सिंह को निर्देश दिया कि मुख्य रूप से सुरसर और गेड़ा नदी के घाटों पर गोता खोर एवं दोनो नदी में एनडीआरएफ टीम की भी व्यवस्था करने की बात कही । साथ एसडीएम श्री हसन से आरडीओ श्री सिंह को कहा की प्रखंड क्षेत्र के सभी थाना क्षेत्र में कम से कम दो दो मॉडल छठ घाट बनाने का निर्देश दिया । वही एसडीएम श्री हसन ने आरडीओ और सीओ को यह भी निर्देश दिया कि सभी छठ घाटों पर जाकर घाटों का निरीक्षण स्वयं करें । उन्होंने यह भी बताया कि 60 वर्ष से अधिक एवं 10 वर्ष से कम के व्यक्ति घाटों नहीं जाएंगे, साथ ही वैसे लोग जिसको सर्दी, जुखाम बुखार हो उन्हें भी घाटों पर नहीं जाने की बात कही ।

मौके पर थानाध्यक्ष अभिषेक अंजन, पीएचसी प्रबंधक नोमान अहमद, शालिग्राम पांडेय, मजहरुल हक खान, मुखिया प्रतिनिधि संजीव कुमार भगत, मुखिया संघ अध्यक्ष प्रमोद यादव, डहरिया मुखिया पंकज यादव, घिवहा मुखिया गजेंद्र राम, माधोपुर मुखिया सरयुग प्रसाद मंडल, फेकनारायन मंडल, संजय यादव, करीमन साफी, भाकपा अंचल सचिव रघुनंदन पासवान, केशव कुमार गुड्डू, पवन हजारी, मकसूद मसन के अलावे दर्जनों जनप्रतिनिधि एवं प्रबुद्ध लोग मौजूद थे।