सड़क पे मिट्टी डाल 23.45 लाख की निकासी, फिर भी अधूरा छोड़ा सड़क निर्माण कार्य

728x90
Spread the news

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बन रही सड़को का हाल बहुत बुरा है । मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र के कई इलाके में सड़कों पर मिट्टी डाल कर छोड़ दिया गया है।

यही हाल उदाकिशुनगंज अनुमंडल के बिहारीगंज प्रखंड अंतर्गत गमैल पंचायत के गोरपार वार्ड नं 11 एसएच 98 बिहारीगंज से उदाकिशुनगंज मेन रोड पर अवस्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के पास से गोरपार बस्ती जाने वाली सड़क का भी है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत लगभग पौने किमी के सकड़ को 57.87 लाख से बनवाया जाना था। सड़क निर्माण कार्य 30 मार्च 2016 को शुरू हुआ। इसकी कार्य समाप्ति की तिथि 29 मार्च 2017 को ही था। इस सड़क के निर्माण के दौरान संवेदक के द्वारा 23 लाख 45 हजार 662 रुपया का निकासी भी हो चुकी है। लेकिन संवेदक ने सड़क निर्माण कार्य को अधूरा छोड़ दिया है। सड़क पर सिर्फ मिट्टी डाल दिये जाने के कारण, बारिश की वजह से सड़क कीचड़ हो चुकी है। वर्तमान में सड़क का बहुत ही बुरा हाल है, ग्रामीण को सड़क पे पैदल चलने में भारी परेशानी का सामना करना पर रहा है। कीचड़ में संलिप्त हो चुकी सड़क पे गाड़ी लेकर चलना बहुत ही मुश्किल हो गई है।

आज तक सड़क निर्माण कार्य अधूरा रहने के कारण स्थानीय ग्रमीणों में विभागीय अधिकारियों के प्रति  काफी आक्रोश भाड़ा हुआ है। स्थानीय ग्रामीण दुर्गा यादव, जितेंद्र यादव, आलोक यादव, आजाद यादव, पप्पू यादव, राहुल यादव, नरेश यादव,  रंजीत पासवान, उदय यादव एवं सुमन यादव का आक्रोश भरी शब्द में कहना है कि जिस सड़क का निर्माण कार्य आज से लगभग 4 साल पहले, यानी कि 2017 के मार्च में ही हो जानी थी, उस सड़क का निर्माण कार्य अभी तक अधूरा पड़ा हुआ है। स्थानीय ग्रामीणों ने एक स्वर में कहा की वे लोग बहुत जल्द विभागीय अधिकारियों एवं संवेदक के खिलाफ कोर्ट में मुकदमा दर्ज करवायेंगे।


Spread the news