मधेपुरा : उदाकिशुनगंज में हथियार का भय दिखा बेखौफ अपराधियों ने लूट की घटना को दिया अंजाम

Spread the news

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : जिले के उदाकिशुनगंज थाना अन्तर्गत बुधामा ओपी क्षेत्र के सुखासनी नहर पुल के पूरब बांसबाड़ी से सटे माली-बुधामा-आलमनगर सम्पर्क पथ पर अज्ञात अपराधियों बुधवार की देर संध्या हथियार का भय दिखाकर दो बैंक कर्मी युवक से उसकी मोटरसाइकिल सहित नगदी लूट लिया।

घटना के बाद क्षेत्र में दहशत फैल गया है। बताया जाता है कि बैंक के दो कर्मी कटिहार जिले के काढ़ागोला निवासी विक्रम कुमार एवं पूर्णिया जिले के बनमनखी निवासी विकास कुमार से करीब ढ़ाई लाख रुपये नगदी समेत हीरो ग्लैमर मोटरसाइकिल (बीआर 39डब्ल्यू 5612) लूटकर फरार हो गया। पीड़ित कर्मियों अनुसार लोन वसूली के बाद विक्रम के पास करीब डेढ़ लाख व विकास के पास करीब छियानवे हजार रुपये मौजूद था।

 जानकारी के अनुसार पीड़ित सहरसा जिले के सोनवर्षाराज स्थित मनौरी चौंक के समीप बैंक शाखा के अन्तर्गत कार्यरत हैं। वहीं आसपास गांव के महिलाओं को कम ब्याज दर पर घरेलू काम-धंधा के लिए लोन देकर सप्ताहिक लोन रकम वापसी वसूलने का काम भी करते हैं। दोनों कर्मियों ने बताया कि उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के खाड़ा, बुधामा, चकलाबासा साधुपुर टोला, बैजनाथपुर व आसपास के इलाके में लोन रकम वसुली के बाद खाड़ा चौंक से सीधे माली-बुधामा-आलमनगर सम्पर्क पथ से सोनवर्षाराज शाखा के प्रस्थान किया। खाड़ा चौंक से महज दो किलोमीटर की दूरी पर अपराधियों द्वारा लूट की घटना को अंजाम दिया गया। उन्होंने यह भी बताया कि पुराना हीरो स्पेण्डर प्लस मोटर साइकिल से संदिग्ध व्यक्तियों द्वारा इनका पीछा किया जा रहा था। जैसे हीं पीड़ित बैंक कर्मी बांसबाड़ी के पास पहुंचे, पहले से मौजूद सफेद अपाचे मोटरसाइकिल व अन्य बाइक पर सवार अपराधियों ने दोनों कर्मियों को रोककर देशी कट्टा (थ्री नाॅट) सटा दिया और बैग में रखे पैसे, टैब व रजिस्टर छीनकर फरार हो गए ।

हालांकि घटना के बाद फरार अपराधियों की पहचान अबतक नहीं की जा सकी है। इधर घटना की सूचना पाकर मौके पर ओपी प्रभारी प्रह्लाद सिंह, उदाकिशुनगंज थानाध्यक्ष सह पुलिस निरीक्षक शशिभूषण सिंह व अन्य पुलिस बल के जवान के साथ पहुंचकर मामले की पुरी जानकारी ली।

बताया जाता है कि रात्री में हीं कई संदिग्ध व्यक्तियों के घर सघन छापेमारी भी की गई। बताया जाता है कि घटनास्थल से छिनतई की घटना को अंजाम देकर अपराधी सुखासनी नहर पुल से पश्चिम नहर होकर उत्तर दिशा की तरफ झंडाटोल-सौतारी होते हुए सीधे बसनहीं थाना क्षेत्र के मंगला बाजार की तरफ भाग निकला।

हैरानी की बात यह है कि  इतनी बड़ी घटना के बाद पीड़ित द्वारा शोर नहीं मचाया गया। जबकि घटनास्थल से सौ मीटर की दूरी पर सुखासनी नहर पर सैकड़ों पशुपालक बरसात के कारण डेरा डाले हुए है। इस बाबत थाना अध्यक्ष शशिभूषण सिंह ने बताया कि माइक्रो फिनांस कंपनी के कर्मी से अज्ञात बदमाशों द्वारा छिनतई की घटना को अंजाम दिया है। मामला दर्ज कर पुलिस अनुसंधान मे जुट गई है।जल्द ही मामले का उद्भेदन हो जाएगा।


Spread the news
advertise