मधेपुरा : पति के हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पत्नी ने सपरिवार किया आमरण अनशन

Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : पति के हत्यारे की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पत्नी ने सपरिवार आमरण अनशन शुरू कर दिया है। जिला मुख्यालय के कला भवन परिसर में मुरलीगंज थाना क्षेत्र के बेलो पंचायत वार्ड संख्या एक निवासी दुर्गा देवी ने अपने पति भूषण ठाकुर के हत्या के आरोप में संलिप्त सभी अभियुक्तों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर अपने परिवार के सभी सदस्यों के साथ आमरण अनशन पर बैठ गई है।

 आमरण अनशन कर रहे परिजनों ने मुरलीगंज पुलिस पर उदासीनता का आरोप लगाते हुये कहा कि हमें मुरलीगंज पुलिस के कार्यशैली पर संदेह है, क्योंकि हत्या के महीनों बीत जाने के बाद भी अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं की जा रही है एवं अभियुक्तों के द्वारा लगातार हम लोगों के घर के अन्य सदस्यों को भी जान से मारने की धमकी दी जा रही है एवं खुले तौर पर हथियार से फायरिंग भी कर रहे हैं, लेकिन जब भी इस मामले में मुरलीगंज पुलिस से फरियाद किया जाता है तो हमें निराशा ही मिल रही है। अभियुक्त गांव में खुलेआम घूम रहे हैं, लेकिन पुलिस कहती है कि वह जब भी गांव आये तो इसकी सूचना दीजिये। सूचना देने देने पर पुलिस बहाना बनाती है कि हम अभी बाहर हैं, हम अभी ड्यूटी पर नहीं हैं, हम अभी नहीं आ सकते हैं। इस तरह से पुलिस की कार्यशैली के कारण अभियुक्तों का मनोबल और बढ़ता जा रहा है। जिस कारण लगातार हमारे परिवार के साथ गाली-गलौज और जान से मारने की धमकी दी जा रही है। ऐसे में अंदेशा है कि किसी दिन और भी कोई बड़ी घटना घट सकती है।

उन्होंने कहा कि पुलिस अधीक्षक संजय कुमार से आग्रह है कि हमारी जान माल की सुरक्षा को देखते हुये, अपने कार्यशैली के प्रति उदासीन मुरलीगंज पुलिस पर कार्यवाही करते हुये, अभियुक्तों की अविलंब गिरफ्तारी कर, उचित कार्यवाही करें। जब तक अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती है, तब तक हम लोग आमरण अनशन पर बैठे रहेंगे।

मालूम हो कि मुरलीगंज थाना क्षेत्र के बेलो पंचायत के वार्ड संख्या एक में विवादित भूमि पर जबरन कब्जा को लेकर महाराज ठाकुर एवं भूषण ठाकुर के बीच बरसों से विवाद चल रहा था। इसी दौरान तीन जुलाई को विवाद हुआ था, जिसमें महाराज ठाकुर ने अपने अन्य सहयोगी व परिजनों के साथ मिलकर भूषण ठाकुर की बेरहमी से पिटाई कर दी थी, जिसके बाद भूषण ठाकुर की सदर अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

भूषण ठाकुर की पत्नी दुर्गा देवी के साथ रतन देवी, दिलीप ठाकुर, रिंकू देवी, रानी देवी, आशीष कुमार, विष्णुदेव ठाकुर, मुकेश कुमार, शंभू ठाकुर, चंदन ठाकुर, रविकांत ठाकुर, कुणाल ठाकुर, मणिकांत कुमार ठाकुर, बाबू ठाकुर, कुंदन कुमार, सानू कुमारी, लूसी कुमारी, चंदन राज, घनश्याम मंडल, आंचल कुमारी, सच्चिदानंद यादव सहित अन्य लोग अनशन स्थल पर मौजूद थे।


Spread the news
advertise