फिल्मों के लिए सबीहा से बनी रानी चटर्जी

Spread the news

अनूप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

भोजपुरी की माधुरी दीक्षित कही जाने वाले एक्ट्रेस आज भले ही सिनेमा से दूर हैं, लेकिन उनकी पॉपुलैरिटी किसी से कम नहीं है। दुनिया भर में उनकी जबरदस्त फैन फॉलोइंग है। उन्होंने वेब सीरीज ‘मस्तराम’ में काफी बोल्ड रोल प्ले किया है। आगे भी वो ऐसे रोल करने के लिए तैयार है।

रानी चटर्जी एक मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखती हैं। उनका मुस्लिम नाम से हिंदू में बदलने के पीछे बड़ी ही दिलचस्प कहानी है।  एक्ट्रेस रानी चटर्जी भोजपुरी सिनेमा फैंस के दिलों में अपनी जगह बना चुकी हैं। अब वेब सीरीज से उनकी पॉपुलैरिटी और बढ़ गई है। रानी चटर्जी का असली नाम सबीहा है और उनका नाम बदलने की दिलचस्प कहानी को बता रहे हैं।

 रानी बताती हैं कि वो 14 साल की उम्र से ही भोजपुरी फिल्मों में काम कर रही हैं। 2004 में जब वो ‘ससुरा बड़ा पैइसावाला’ फिल्म की शूटिंग कर रही थी तो इस दौरान एक ऐसी घटना हुई कि उनका नाम बदल गया। रानी ने बताया कि वह फिल्म की शूटिंग के लिए वो बाहर गई थीं। वहां, उन्हें मंदिर में सिर पटकने का सीन शूट करना था। डायरेक्टर को लगा कि उनके नाम की वजह से दिक्कत आ सकती है। शूटिंग के दौरान मौजूद लोगों और मीडिया ने जब एक्ट्रेस का नाम पूछा तो डायरेक्टर ने बोल दिया ‘रानी’। फिल्म का सीन शूट हो गया। रानी ने बताया कि जब किसी ने उनका लास्ट नाम पूछा तो डायरेक्टर को जल्दी में कुछ सूझा नहीं। उस वक्त रानी मुखर्जी काफी फेमस थीं तो उनका नाम रानी चटर्जी बता दिया।

इस तरह सबीहा रानी चटर्जी के नाम से फेमस हो गईं। रानी ने बताया कि उनके घरवाले शुरू में इस बात को लेकर नाराज हुए थे। हालांकि, रानी अपने इस नाम को लकी मानती हैं, क्योंकि इसके बदौलत उन्हें बहुत कुछ मिला।

रानी चटर्जी के साथ फिल्म ‘ससुरा बड़ा पैइसावाला’ में मनोज तिवारी ने लीड रोल प्ले किया था। इस मूवी से रानी रातों रात हिट हो गई थीं और फिल्म ने उस वक्त बॉक्स ऑफिस पर बड़ा रिकॉर्ड बनाया था। इस फिल्म के बाद रानी को एक बाद एक कई प्रोजेक्ट्स मिले और उनकी फिल्में हिट होती चली गईं और आज वो इंडस्ट्री का बड़ा नाम बन चुकी हैं। एक वक्त था कि वो एक फिल्म के लिए सबसे ज्यादा चार्ज करने वाली एक्ट्रेस थीं।


Spread the news
advertise