मधेपुरा : बिहार के मजदूरों को सकुशल बिहार लाने के लिए सांकेतिक मार्च

728x90
Spread the news

ऋषि सिंह
सदर संवाददाता
मधेपुरा,बिहार

मधेपुरा/बिहार : दूसरे राज्यों में फसें बिहार के मजदूर लोगों को सकुशल बिहार लाने के लिए मधेपुरा में भी एक सांकेतिक मार्च शुरू किया गया है । सांकेतिक मार्च मे सभी छात्र नेताओं ने कार्ड बोर्ड पर सरकार के विरोध में विभिन्न प्रकार के स्लोगन लिखे थे, जैसे भ्रष्ट राजा दुष्ट वजीर, भोला मजदूर बना फकीर, बिहारियों ने छेरा आगाज, मजदूरों की बनकर आवाज।

दूसरे राज्यों में फंसे अप्रवासी मजदूरों को बिहार वापस लाने को लेकर जन अधिकार पार्टी (लो०) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के आह्वान पर आज मधेपुरा में जन अधिकार छात्र परिषद् के द्वारा सांकेतिक मार्च के माध्यम से सरकार से मजदूरों को वापस लाने का मांग किया गया।

जन अधिकार पार्टी छात्र परिषद् जिला अध्यक्ष रौशन कुमार बिट्टू ने कहा कि जिस तरह से बिहार के बाहर फँसे मजदूरों को बिहार सरकार उन्हें छोड़ दिया है, देश के राज्य में बिहार के मजदूर फंसे हुए और भुखे मर रहे हैं। विवि अध्यक्ष अमन कुमार रितेश ने कहा कि  मजदूर के पास कोई रास्ता नहीं रहने के कारण लाखों मजदूर पैदल घर जा रहे हैं, बिहार सरकार मजदूरों को लाने के लिए सिर्फ खानापूर्ति कर रही है, मजदूर परेशान हैं।

नगर अध्यक्ष सामन्त यादव ने कहा कि बिहार सरकार जल्द से जल्द सभी मजदूरों को सुरक्षित घर पहुचाने का काम करे, देश के भीतर मजदूरों की दयनीय स्थिति बनी हुई है।

 इस मौके अभिनाश कुमार, जिला महाचिव अजय कुमार, मनीष प्रेम आदि मौजूद थे।


Spread the news