नालंदा : VIMS चिकित्सा अस्पताल, पावापुरी के संविदा कर्मचारियों ने विभिन्न मांगों को लेकर प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन 

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले के VIMS चिकित्सा अस्पताल, पावापुरी  में संविदा पर कार्य कर रहे सफाई कर्मियों ने न्यूनतम वेतन पर काम कराने की शिकायत की है । इनलोगों का कहना है कि उनसे ओवर टाइम भी काम लिया जाता है, किसी कर्मियों को ईएसआईसी एवं पीएफ जैसी कोई सुविधा नहीं दिया जाता है ।

इसके अलावा इनलोगों का यह भी कहना है कि कोरोना वैश्विक महामारी जैसे समय मे भी वे सभी बखूबी समय के साथ अपने कार्या को अंजाम दे रहे हैं, लेकिन उनकी सुरक्षा को लेकर विभाग लापरवाही बरत रही है। आज इनलोगों को मास्क भी उपलब्ध नहीं कराया गया। कर्मियों ने यह भी शिकायत की है कि दैनिक बही पर हाजरी उन्हें बनाने नहीं दिया जाता है, जिससे पता चलता है कि उनके साथ न इनसाफी हो रही है क्योंकि ठीकेदारों द्वारा हाजरी बही पर अनुपस्थित दिखा दिया जाता है । इतना ही नहीं जानबूझकर हर महीने में इनलोगों का ठीकेदारों द्वारा दस दिन की हाजरी काट लिया जाता है । इनलोगों का कहना है कि प्रतिदिन हमलोग काम करते हैं फिर दस दिन का का पैसा काट लिया जाता है ।

इनलोगों ने आवेदन में यह भी शिकायत किया है कि लैब सहायक एवं लैब प्राधौगिकी कर्मियों को पिछले छह माह से वेतन नहीं दिये जाने के कारण उनके परिवारों के बीच खाने पीने की संकट उतपन्न हो गयी है। कर्मचारियों ने विम्स संविदा संघ पर भी आरोप लगाया है कि यह सब काम उनकी मिली भगत से हो रहा है। यह ही नहीं ओवर टाइम के साथ 365 दिन उनसे काम लिया जाता है और एक दिन भी छुट्टी नहीं होती है। इधर प्राचार्य डॉ पीके चौधरी ने सभी कर्मियों को आश्वासन दिया है कि जल्द ही उनकी शिकायतें एक एक कर दूर की जाएगी। साथ सभी कर्मियों को बैंक खाता जमा करने को कहा गया है ताकि उनकी राशि खाते में दिया जा सके।

इस मौके पर आवेदन देने वालों में विम्स संविदा कर्मचारी संघ के महामंत्री सुधीर पटेल, भारती मजदूर संघ नालन्दा के जिला महा मंत्री सतीश चंद्र प्रभात एवं पवन कुमार शामिल थे ।


Spread the news
advertise