दरभंगा : स्वयं सेवी संस्थान ने ऑनलाइन शिक्षा की व्यवस्था का किया आगाज़

728x90
Spread the news

अजेश कुमार की रिपोर्ट :

दरभंगा/बिहार : देश में एक ओर कोरोना के कारण पूर्ण रूप से लॉकडाउन है तो दूसरी ओर घर पर रहकर मध्य विद्यालयों के ग्रामीण बच्चों को ऑनलाइन के माध्यम से विज्ञान की शिक्षा क्रियाकलापों द्वारा देने का कार्य पूर्व राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम एवं पद्म श्री डॉ मानस बिहारी की संस्था विकसित भारत फाउंडेशन बिहार ब्रांच सह अगस्त्या इंटरनेशनल फाउंडेशन बैंगलोर के सीनियर साइंस एंड अाई.टी इंस्ट्रक्टर फवाद ग़ज़ाली एवं मनोज कुमार यादव कर रहे हैं।

श्री फवाद ग़ज़ाली ने बताया कि कोरोना ऐसी महामारी है जिसके कारण विद्यालयों के बंद होने से बच्चों की पढ़ाई पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है और अब  विद्यालय कब खुलेंगे इसकी फिलहाल कोई संभावना नहीं है। वर्तमान समय में बच्चे अपने घरों में बैठे हैं लेकिन घर पर भी पठन-पाठन का क्रम चलता रहना चाहिए। इसी के मद्देनजर संस्था के आदेश अनुसार ऑनलाइन कक्षा वर्ग छठी से दसवीं तक के बच्चों के लिए विज्ञान विषय पर आधारित कक्षाएं संचालित करना आज से आरंभ किया गया है। इसमें विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्रों के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक के बच्चे हैं जिनके लिए यह ऑनलाइन क्लास बिल्कुल नया प्रयोग है। परंतु या तकनीक का युग है और बच्चों में जिज्ञासा अधिक होती है। तकनीक और संगम वह मोर है जो बच्चे को कहीं से कहीं पहुंचा देता है।

 श्री मनोज ने बताया कि इसमें बड़ी संख्या में बच्चे के साथ अभिभावक एवं शिक्षक भी अपनी रुचि दिखा रहे हैं। ज्ञात हो कि संस्था द्वारा विगत 10 वर्षों से दरभंगा जिले के ग्रामीण क्षेत्र में मौजूद विद्यालयों में मोबाइल साइंस लैब के माध्यम से जाकर विज्ञान एवं कंप्यूटर की शिक्षा दी जा रही है जिसमें बड़ी संख्याओं में बच्चों को लाभ हो रहा है। इस प्रयास को सफल बनाने में संस्था के एरिया मैनेजर मुकेश कुमार, एरिया लिड राजीव कुमार एवं आईएमटी राम अकबाल का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है।


Spread the news