दरभंगा : केंद सरकार के गाइडलाइंन अनुसार कुछ चीजों में कल से मिलेगी छूट, पढ़ें पूरी खबर

Spread the news

ज़ाहिद अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : जिलाधिकारी ने कहा है कि केन्द्र सरकार के गाइड लाइन के अनुसार कोरोना महामारी के रोकथाम हेतु देश भर में लागू लॉक डाउन में दिनांक 20 अप्रैल से बुनियादी निर्माण कार्य प्रारम्भ करने, ग्रामीण आर्थिक गतिविधियां संचालित करने आदि हेतु सीमित छूट प्रदान की जायेगी लेकिन आमलोग 03 मई 2020 तक अभी लॉक डाउन में ही रहेंगे।

उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं एवं अनिवार्य/आपातकालीन सेवाओं के संचालन में पहले से ही छूट प्राप्त है जो आगे भी जारी रहेगा। आगे उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के चलते बड़ी संख्या में दैनिक मजदूरी करने वाले लोग बेरोजगार बैठे हुए हैं इसलिए सरकार ने ग्रामीण आर्थिक गतिविधियों को सीमित छूट के साथ संचालित करने का आदेश दिया है। इसके तहत मनरेगा योजना का क्रियान्वयन, सरकार की महत्वाकांक्षी जल-जीवन-हरियाली अभियान के तहत जल श्रोतों का निर्माण एवं प्राकृतिक जल श्रोतों का जीर्णोद्धार कार्य भी सोशल डिस्टेसिंग नियम का पालन करते हुए शुरू किये जायेंगे। मुख्यमंत्री की सात निश्चय योजनाएँ यथा हर घर नल का जल, गली-नाली पक्कीकरण, शौचालय निर्माण आदि से संबंधित कार्य भी कराये जायेंगे। फ्लड प्रोटेक्शन के तहत तटबंधो का मजूबतीकरण कार्य भी शुरू हो सकेंगे। इसके साथ ही सरकारी भवनों का निर्माण, ग्रामीण क्षेत्रों में ईंट भट्ठा उद्योग, सड़क/पुल निर्माण, सिंचाई परियोजनाएँ, विद्युत ऊर्जा उत्पादन से संबंधित निर्माण, पेयजल टावर का निर्माण आदि कार्य भी प्रारंभ हो सकेगा।

 उन्होंने कहा कि सरकार के सभी कार्यालयों/बार्ड/निगम/निकाय कार्यालयों में कार्य शुरू होंगे जिसमें साफ-सफाई एवं सामाजिक दूरी मेनटेन करनी जरूरी होगी। सभी पदाधिकारी/कर्मी को सार्वजनिक कार्य स्थलों पर मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है। उन्हें अपने विभाग/कार्यालय का परिचय पत्र अपने पास रखनी जरूरी होगी। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्त्ति एवं अनिवार्य सेवाओं से संबंधित सारी गतिविधियाँ पूर्व की तरह सोशल डिस्टेसिंग नियम का पालन करते हुए जारी रहेगी। आवश्यकतानुसार प्रशासन द्वारा सभी संबंधित एजेंसियों को पास निर्गत किया गया है। वहीं निर्माण कार्य में संलग्न कर्मियों एवं मजदूरां को संबंधित एजेंसी द्वारा पास निर्गत किया जायेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी कार्य विभागों के कार्यालय प्रधान को पास निर्गत करने हेतु प्राधिकृत कर दिया गया है। आगे उन्होंने कहा कि जिला में कार्यरत संबंधित विभागों के कार्यपालक अभियंता एवं अन्य कार्यपालक अभियंतागण, जिनका कार्यक्षेत्र दरभंगा जिला में पड़ता है, को अपने-अपने विभाग से संबंधित महत्वपूर्ण कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु कार्य प्रारंभ करने को कहा गया है।

 उक्त कार्य में संलग्न संवेदकों/मजदूरों/संलग्न कर्मियों को पास निर्गत करने हेतु संबंधित कार्यपालक अभियंता को प्राधिकृत किया गया है। बैठक में उपस्थित वरीय पुलिस अधीक्षक बाबू राम ने कहा है कि सभी पुलिस पदाधिकारी सरकार के द्वारा जारी गाइडलाइन के अलोक में लॉक डाउन आदेश का सख्ती से पालन सुनिश्चित करेंगे। आपातकालीन एवं अनिवार्य सेवाएँ पूर्व वत जारी रहेंगी। उन्होंने कहा है कि सरकार के निर्देशानुसार 20 अप्रैल से कुछ नये निर्माण कार्य शुरू की जायेगी। इसलिए जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन के पदाधिकारी/कर्मी टीम भावना से अपने दायित्वों का निर्वह्न करें। कोई भी धार्मिक कार्य सामूहिक रूप से आयोजित करने की छूट नही दी जायेगी। मंदिर/मस्जिदों में लोगों के जुटान पर पूर्ण रोक जारी रहेगी। 03 मई 2020 तक सभी लोगों को लॉक डाउन में ही रहनी होगी। जिलाधिकारी ने सभी क्षेत्रीय पदाधिकारियों को कार्यालय में साफ-सफाई, सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन करने का निदेश दिया है। जन वितरण प्रणाली बिक्रेताओं के माध्यम से माह अप्रैल का समूल्य नियमित खाद्यान्न के साथ एक माह का मुफ्त खाद्यान्न का वितरण सभी पात्र  लाभार्थियों के बीच पूरी पारदर्शिता से कराई जाये। जीविका समूह की दीदीयों के माध्यम से सभी घरों में सर्वे कराकर राशन कार्ड से वंचित लाभार्थियों का डाटा बेस तैयार की जाये। वहीं सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को घर-घर सर्वेक्षण कर कोरोना के लक्षण वाले व्यक्तियों की पहचान करने एवं उनका जांच कराने को कहा गया।

वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से आयोजित इस बैठक में जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस.एम, वरीय पुलिस अधीक्षक बाबू राम सहित नगर आयुक्त घनश्याम मीणा, प्रशिक्षु सहायक समाहर्त्ता विनोद दूहन, अपर समाहर्त्ता विभूति रंजन चौधरी, उप विकास आयुक्त डॉ. कारी प्रसाद महतो, सिविल सर्जन डॉ. संजीव कुमार सिंहा, जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी सुशील कुमार शर्मा, डीएसओ अजय कुमार गुप्ता, सदर एसडीओ राकेश गुप्ता, विशेष कार्य पदाधिकारी पुष्पेश कुमार, सभी कोषांगों के नोडल पदाधिकारी, सभी अनुमण्डल पदाधिकारी, सभी अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी, सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, सभी थाना प्रभारी आदि उपस्थित थे।


Spread the news
advertise