सुपौल : छातापुर के बैंकों में सोशल डिस्टेंस की उड़ रही हाई धज्जियां  

728x90
Spread the news

रियाज खान की रिपोर्ट : 

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित विभिन्न बैंकों में सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाई जा हैं। ग्राहकों की लापरवाही से कोरोना का संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ गया है। प्रशासन द्वारा बार-बार समझाने के बावजूद ग्रामीणों का भीड़ विभिन्न बैंकों में सोमवार को देखने को मिला । भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, उतर बिहार ग्रामीण बैंक, यूनाइटेड बैंक महद्दीपुर सहित सीएसपी केंद्रों में ग्राहकों का हुजूम लगा रहा। लोग प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत आई राशि, महिला के जनधन खाते, वृद्धा पेंशन एवं किसान सम्मान निधि योजना में सरकार द्वारा भेजी गई राशि की निकासी के लिए भीड़ उमड़ी थी। बैंक शाखाओं में लॉकडाउन के उल्लंघन के साथ पहुंची महिलाओं की भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग की भी धज्जियां उड़ाती दिखी। इस दौरान लोगों में जागरूकता का साफ तौर पर अभाव दिखा।

भीड़ को नियंत्रित करने एवं सोशल डिस्टेंस बनाए रखने को लेकर थानाध्यक्ष अनमोल कुमार महिला एवं पुरुष सशस्त्र बल के जवानों के साथ सभी बैंकों एवं सीएसपी पहुंचकर ने सामाजिक दूरी बना कर कतार में सभी लोगो को खड़ा करवाया, और लोगो समाजिक दूरी बनाए रखने की सलाह दे रहे थे। लेकिन, ग्रामीण किसी की बातों को सुनने को तैयार नही थे। 

यहां बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से केंद्र सरकार ने महिला के जनधन खाते में 500-500 रुपये भेजे हैं। जिसे निकालने के लिए बैंकों के सामने लंबी-लंबी कतारें देखी जा रही है। लेकिन बैंक प्रबंधन की ओर से इस भीड़ को रोकने के लिए किसी प्रकार का कोई समुचित उपाय नहीं किया गया है। कहीं ना कहीं ऐसे मामलों में बैंक की भी एक बड़ी लापरवाही कही जा सकती है।


Spread the news