नालंदा : उपविकास आयुक्त ने चेंबर ऑफ कॉमर्स एवं मिलर और थोक विक्रेताओं के साथ की बैठक

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : नोबेल कोरोना वायरस को लेकर खाद्यान्न पदार्थों की कमी नहीं हो इसी को लेकर उप विकास आयुक्त राकेश कुमार ने अपने कार्यालय में नालंदा चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज एवं मिलर और थोक व्यापारी के साथ एक बैठक की।

इस बैठक में नालंदा चेंबर ऑफ कॉमर्स के जिला अध्यक्ष अनिल कुमार अकेला के अलावे मिलर और थोक व्यापारी भी उपस्थित थे। बैठक के बाद नालंदा चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के जिला अध्यक्ष अनिल कुमार अकेला ने बताया कि नोबेल करो ना वायरस महामारी की उत्पन्न स्थिति से पूरा देश में लॉक डाउन है, परंतु खाद्य सामग्रियों को इससे पूरी तरह अलग रखा गया है । खाद सामग्री की धुलाई करने वाली गाड़ियों के लिए जिले में पास निर्यात कर स्थिति समान हो गई है और व्यापारियों को खाद्य सामग्री माल दूसरे राज्यों नहीं आ रहा था, जिसे उप विकास आयुक्त के पहल पर आबा गमन को शुरू कर दिया गया है और इसका सार्थक परिणाम एक-दो दिन के अंदर आ जाएगा।

 इस बैठक में यह भी कहा गया की सभी व्यापारी सरकारी आदेश का पूरी तरह पालन करें और सुबह 6:00 बजे सुबह से लेकर शाम के 6:00 बजे तक ही अपनी दुकान खाद्य सामग्रियों की खोलें ।यह  आदेश 14 अप्रैल 2020 तक लागू रहेगा और आदेश का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस बैठक में जिला आपूर्ति पदाधिकारी रवि शंकर, चेंबर ऑफ कॉमर्स के उप सचिव श्याम कुमार गुप्ता, अनिल कुमार, मुरारी प्रसाद, दीपक कुमार, मुकेश कुमार, रामविलास इत्यादि उपस्थित थे।


Spread the news
advertise