नालंदा : टिक टॉक बाय हत्याकांड का लहरी पुलिस ने किया खुलासा, सुपारी देकर कराई गई थी हत्या, दो गिरफ्तार, अस्लहा  बरामद

Spread the news

विज्ञापन
मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : जिले में बीते 20 फरवरी को बिहारशरीफ शहर के लहरी थाना क्षेत्र के बढ़ाई गली में एक युवक को गोली मारकर अपराधियों ने हत्या कर दी थी, इस हत्याकांड का लहरी पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया टिक टॉक नहीं भूमि विवाद में हुई राज आर्यन की हत्या। सुपारी देकर हत्या कराई गई थी। लहरी पुलिस ने कारगील बस स्टैंड से दोनों सुपारी किलर को गिरफ्तार कर लिया और युवक के पास से एक पिस्तौल एक रिवाल्वर के साथ 16 जिंदा गोली और दो मोबाइल भी बरामद किया।

‌डीएसपी इमरान परवेज ने इस घटना के संबंध में बताया कि मृतक राज आर्यन का झगड़ा कुछ दिनों पूर्व नवादा के अरनव और आकाश के साथ मोबाइल को लेकर हुआ था, वहीं दूसरी और मृतक राज आर्यन और प्रकाश आकाश झगड़े का फायदा उठाकर राज आर्यन के चचेरा भाई और चाचा ने राज आर्यन को मारने के लिए अरुण को ₹19 हजार की सुपारी दी थी इस पैसों से अर्नब ने आकाश की हत्या करने के लिए हथियार और कुछ गोलियां खरीदी हत्या के दिन दोनों दोस्त आकाश के साथ मिलकर फोन करके राज आर्यन को बुलाया और दोनों मिलकर चाय पानी पिया खाया, वहीं पर मौका देखते ही राज आर्यन ने पीछे से गोली मार दी, फिर दोनों वहां से फरार हो गए।

 इस घटना के बाद पुलिस ने अनुसंधान में एक टीम का गठन कर अभियुक्त की तलाश शुरू कर दी तो अभियुक्त कभी बंगाल कभी झारखंड भागता रहा, लेकिन कल पुलिस के शिकंजे में आ ही गया और बिहार शरीफ के कारगिल बस स्टैंड से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। हकीकत में राज आर्यन की हत्या टिक टाक बनाने के कारण नहीं हुई थी बल्कि पूर्व से चली आ रही भूमि विवाद से उत्पन्न आपसी विवाद के कारण हुई थी। पुलिस ने इस कांड का उद्भेदन एक बड़ा खुलासा किया है।

गिरफ्तार अपराधियों में अर्नब शौर्य उर्फ रवि उम्र 19 वर्ष पिता अशोक विश्वकर्मा साकिन लाइनपार मिर्जापुर नगर थाना जिला नवादा।दूसरा आकाश कुमार उम्र 18 वर्ष पिता उपेंद्र प्रसाद साकिन लाइनपार मिर्जापुर नगर थाना जिला नवादा है और इन लोगों के पास से 1 पिस्तौल,1 रिवाल्वर 16 गोली  और 2 मोबाइल बरामद किया गया है।

इस छापेमारी दल में शामिल लहेरी थाना इंस्पेक्टर वीरेंद्र यादव, डी आई यू इंचार्ज मोहम्मद मुस्ताक,डी आई यू शाखा के चंदन कुमार, लहरी थाना के वीरेंद्र चौधरी, चंदन कुमार एवं पुलिस बल मौजूद थे।


Spread the news
advertise