मधेपुरा :  थाली पीट कर अनोखे अंदाज में शिक्षकों ने सरकार का किया विरोध

फोटो : एकजुटता दिखाते हड़ताली नियोजित शिक्षक
Spread the news

विज्ञापन

पूर्ण वेतनमान की मांग को लेकर दसवें दिन भी जारी रही शिक्षकों की हड़ताल

नियोजित शिक्षकों की हड़ताल से उदाकिशुनगंज के 143 विद्यालयों में लटका है ताला

कौनैन बशीर
वरीय उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : पूर्ण वेतनमान की मांग को लेकर नियोजित शिक्षकों का अनिश्चितकालीन हड़ताल दसवें दिन भी जारी रहा। शिक्षक संघ समन्वय समिति के बैनर तले शिक्षकों ने बुधवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित बीआरसी कार्यालय के सामने थाली पीटकर अनोखे अंदाज में विरोध जताया। इस दौरान सरकार के निष्क्रियता के खिलाफ एतराज जताया। मौजूद नियोजित शिक्षकों के प्रति लापरवाह सरकार की दमनकारी नीति के खिलाफ शिक्षकों ने जमकर अपनी भड़ास निकाली।

विज्ञापन

शिक्षक संघ के युवा अध्यक्ष संजय कुमार पुतुल  ने कहा कि जितनी मानदेय सरकार के द्वारा नियोजित शिक्षकों को दी जाती है उससे शिक्षकों को परिवार चलाना तो दूर ठीक ढंग से बच्चों का परवरिश भी नहीं हो पाता है। उन्होंने कहा कि मांगे पूरा होने तक आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार शिक्षा व शिक्षक विरोधी नीति से सूबे के चार लाख प्रारंभिक, माध्यमिक, उच्चतर माध्यमिक शिक्षक एवं पुस्तकालय अध्यक्ष आर्थिक एवं मानसिक व शारिरिक प्रतारणा झेल रहे हैं।

विज्ञापन

उदाकिशुनगंज अंचल प्राथमिक शिक्षक संघ के सचिव उमेश कुमार यादव ने कहा कि सरकार जबतक हमलोगों की मांग नहीं मान लेती तबतक हड़ताल जारी रहेगा। बृज बिहारी यादव ने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक के हाथों में प्रलय और निर्माण दोनों होता है या तो सरकार हमें पूर्ण वेतनमान देगी या यह तानाशाह नीतीश सरकार आने वाले विधानसभा चुनाव में शिक्षकों के कोप का भाजन बनना पड़ेगा। वही बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के प्रखण्ड अध्यक्ष गुंजन कुमार सिंह ने कहा कि सरकार की दमनकारी नीति के खिलाफ हम लोगों ने हड़ताल किया गया है।

मौके पर कोषाध्यक्ष सुनील कुमार चौरसिया, अंचल सचिव उमेश कुमार यादव, अभिषेक कुमार, आदित्य पंडित, रविंद्र कुमार सिंह, अंकेश कुमार, शैलेश चौरसिया, मनोज दास, भूषण यादव, गुंजन सिंह, सोनू रजक, सुमित झा, संजय कुमार सहित अन्य मौजूद थे।


Spread the news
advertise