मधेपुरा : लगातार व्यापक स्तर पर अपना प्रभाव डाल रहा है अनिश्चित कालीन धरना

Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : मधेपुरा मुख्यालय के मस्जिद चौक पर जारी अनिश्चित कालीन धरना लगातार व्यापक स्तर पर अपना प्रभाव डाल रहा है। निरन्तर अलग अलग समूह के लोगों का विश्वास और समर्थन प्राप्त हो रहा है।

गुरुवार को कई वक्ताओं ने धरना को संबोधित करते हुए धरना को समाज को बिखरने से रोकने का अटूट प्रयास बताया। बतौर वक्ता बोलते हुए अधिवक्ता नूर आलम ने कहा कि भारत का इतिहास अनेकता में एकता का संदेश देने का रहा है। लेकिन कुछ समय से कुछ लोग इसे बदनाम कर तोड़ने की नापाक इरादे पाल बैठे हैं। समाज के शुभचिंतकों की यह जवाबदेही है कि इसे कामयाब होने से रोके।

शाहनवाज नवाब ने धरना पर अपनी बात रखते हुए कहा कि यह देश सबका है सबने इसे मिलकर बनाया है, इसलिए देश में अपना पराया की कोई भी पहल स्वीकार नहीं होगी। समाजसेवी कैलाश प्रसाद ने कहा कि देश में एन आर सी, सी ए ए, एन पी आर जैसे मुद्दे की जरूरत ही नहीं है क्योंकि यह मुल्क एकता में अनेकता का पर्यायवाची है। संविधान में डॉ आंबेडकर द्वारा लिखे नागरिकता के प्रावधानों को छेड़ने की कोशिश बहुत ही विनाशकारी होगी यह बात केंद्र सरकार को समझने की जरूरत है। कासिफ अहमद ने अपनी बात रखते हुए कहा कि जिन्हें देश के विकास में योगदान देना था, केंद्र सरकार की अनुचित नीति ने उन्हें आंदोलन के लिए सड़क पर उतार दिया है जिससे देश को काफी नुकसान नहीं रहा है।

मौके पर बड़ी संख्या में भाग ले रही औरतों ने कहा कि यह अनिश्चितकालीन धरना अंजाम पाने तक अनवरत जारी रहेगा।धरना में बड़ी संख्या में औरत,पुरुष संग युवाओं की भागीदारी रही।


Spread the news
advertise