मधेपुरा  : शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हुई दूसरे दिन की इंटरमीडिएट परीक्षा

728x90
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा /बिहार: जिले में 35 केंद्रों पर चल रहे इंटरमीडिएट परीक्षा के दूसरे दिन मंगलवार को शांतिपूर्ण माहौल में परीक्षा शुरू हुआ। मंगलवार को प्रथम पाली में विज्ञान संकाय के रसायन शास्त्र विषय की परीक्षा ली गयी। वहीं द्वितीय पाली में कला संकाय के राजनीति विज्ञान एवं वोकेशनल से अंग्रेजी की परीक्षा ली गई।

 सुबह नियत समय से पहले केंद्रों पर परीक्षार्थियों का पहुंचना शुरू हो गया। परीक्षार्थियों की गहन तलाशी बाद ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति मिली। परीक्षा शुरू होते ही अधिकारी सक्रिय नजर आने लगे। केंद्र के बाहर तैनात पुलिस ने अभिभावकों के भीड़ को हटाया। शहर में छात्रों की संख्या एकाएक बढ़ने से भीड़ का माहौल बना रहा। मगर जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की मुस्तैदी ने शहर में शांति व्यवस्था कायम रखा। परीक्षा के दूसरे दिन भी कहीं भी कोई परेशानी नहीं दिखी। शहर की शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए जिला प्रशासन ने अपनी पूरी मुस्तैदी दिखाई है।

 सदर एसडीपीओ वसी अहमद, सदर एसडीएम वृंदा लाल, जिला शिक्षा पदाधिकारी उग्रेश प्रसाद मंडल सहित जिले के सभी उच्च अधिकारी सभी केंद्रों पर मॉनिटरिंग करते रहे। परीक्षा खत्म होने के बाद सड़कों पर जाम की स्थिति बनी रही। लेकिन पुलिस प्रशासन एवं कमांडो टीम ने इस समस्या को भी अपने स्तर से हल किया। दूसरे दिन भी प्रशासन के सख्ती के आगे मददगारों की एक नहीं चली, केंद्र के आसपास किसी को भटकने नहीं दिया गया।

मॉडल केंद्र पर बना बेहतर माहौल : जिला मुख्यालय स्थित केशव कन्या उच्च विद्यालय, वेदव्यास महाविद्यालय एवं केवी विमेंस कॉलेज परीक्षा केंद्र एवं उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र में मध्य विद्यालय उदाकिशुनगंज परीक्षा केंद्र आकर्षण का केंद्र है। इस परीक्षा केंद्र को मॉडल सेंटर बनाया गया है। जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला के आदेश पर जिला मुख्यालय स्थित केशव कन्या उच्च विद्यालय, वेदव्यास महाविद्यालय एवं केवी विमेंस कॉलेज परीक्षा केंद्र एवं उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र में मध्य विद्यालय उदाकिशुनगंज परीक्षा केंद्र को केवल छात्राओं का सेंटर बनाया गया। यहां सभी शिक्षक से लेकर पयर्वेक्षक महिलाएं रही। छात्राओं की तलाशी महिला दंडाधिकारी, महिला पुलिस, महिला वीक्षक व महिला केंद्र अधीक्षक द्वारा ली जा रही है। मॉडल केंद्र पर परीक्षा दे रही सभी छात्राओं ने इस कार्य को सराहनीय कार्य बताया। छात्राओं ने कहा कि परीक्षा केंद्र पर आने से पहले ही हर छात्राओं के दिल में एक भय बना हुआ रहता है कि केंद्र कैसा होगा और वहां के शिक्षक कैसे होंगे। लेकिन इस मॉडल केंद्र पर आने के बाद सभी छात्राओं का दिल खुश हो गया। केंद्र का माहौल देखते ही एवं अंदर सभी शिक्षकों के अच्छे बर्ताव से हम लोगों के दिल से भय मिट गया। इसलिए हम लोग अच्छे ढंग से परीक्षा दे पाये।

केंद्र के जरिए दिया सामाजिक संदेश : वहीं सदर एसडीएम वृंदा लाल एवं सदर एसडीपीओ वसी  अहमद ने कहा कि केंद्र पर दूर-दूर से ग्रामीण छात्राएं परीक्षा देने आती है। जो कि डरी एवं सहमी रहती है। इस तरह के माहौल से उनका टेंशन दूर रहता है तथा परीक्षा अच्छी से दे पाती है। महिला थानाध्यक्ष प्रमिला कुमारी ने कहा कि जिला मुख्यालय स्थित केशव कन्या उच्च विद्यालय, वेदव्यास महाविद्यालय एवं केवी विमेंस कॉलेज परीक्षा केंद्र एवं उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र में मध्य विद्यालय उदाकिशुनगंज परीक्षा केंद्र को मॉडल सेंटर बनाया गया है। यहां पर सभी अधिकारी से लेकर पुलिस कर्मी एवं पुलिस फोर्स सभी महिलाएं है। यहां पर छात्राओं के लिए खुशनुमा माहौल बनाया गया है। जिससे परीक्षार्थी बिना कोई टेंशन के खुशी से परीक्षा दे सके। इस सेंटर के जरिए हमलोग महिलाओं को मैसेज देना चाहते हैं कि महिलाएं भी परीक्षा एवं सभी कार्य कर सकते हैं और निभा सकते हैं। जिला पदाधिकारी ने इस सेंटर के जरिये बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं को बढ़ावा दिया है।

प्रशासन रही केंद्र पर तत्पर : जिला प्रशासन की मुस्तैदी ने कहीं भी कोई परेशानी का कारण नहीं बनने दिया. कदाचार मुक्त इंटरमीडिएट परीक्षा का अभिभावको एवं परीक्षार्थी के सहयोगियों ने भी जिला प्रशासन का इस कार्य में साथ दिया। सभी केंद्रों पर अभिभावक अपने परीक्षार्थी को केंद्र पर पहुंचाकर सेंटर को खाली कर दिया। कहीं भी कोई शोर शराबा नहीं हुआ। इसका कारण है कि अभिभावकों ने भी जिला प्रशासन को कदाचार मुक्त परीक्षा होने में साथ दिया है।


Spread the news