नालंदा : वामदलों की ओर से  गांधी  की शहादत दिवस पर सत्याग्रह

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : देश के विनाशकारी काला कानून एनआरसी,सीएए और एनपीआर के खिलाफ गांधी की शहादत दिवस के अवसर पर राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम के तहत वाम

दलों की ओर से हॉस्पिटल मोड़ बिहारशरीफ में  सत्याग्रह का आयोजित किया गया।

सत्याग्रह को संबोधित करते हुए भाकपा-माले जिला सचिव सुरेंद्र राम ,भाकपा के राज्य नेता मोहन प्रसाद एवं माकपा के जिला सचिव जनार्दन प्रसाद ने कहा कि आजाद हिंदुस्तान की पहली आतंकवादी घटना महात्मा गांधी की हत्या है दुर्भाग्य की बात है के केंद्र की भाजपा सरकार गांधी के हत्यारे गोडसे के महिमामंडन में लगी है देश आज आर्थिक मंदी और बेरोजगारी से कराह रहा है दूसरी ओर केंद्र की मोदी – शाह की सरकार विभाजनकारी सीएए ,एनआरसी एनपीआर जैसे काले कानून लाकर देश के संविधान को तहस-नहस करने में लगी है संविधान, देश और लोकतंत्र नागरिकता बचाने के लिए आंदोलन चल रहा है इन मांगों को लेकर जनता सड़क पर पूरे देश में उतरी हुई है।

वाम दलों के नेताओं ने कहा कि जब तक सीएए ,एनपीआर एनआरसी वापस नहीं हुए तब तक आंदोलन जारी रहेगा ।नीतीश कुमार विधानसभा से एनआरसी एनपीआर एवं सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पास करवाने की मांग की और जल जीवन हरियाली के नाम पर भूमिहीन गरीबों के उजाड़े जाने की कार्रवाई को बंद करने एवं नोटिस वापस लेने की मांग की। सत्याग्रह में इंसाफ मंच के जिला संयोजक सरफराज अहमद खान, मोहम्मद नसीरुद्दीन,पाल बिहारी लाल, रामधारी दास , वीरेश कुमार, सुनील कुमार,राज किशोर प्रसाद, सुरेंद्र प्रसाद यादव,  मोहम्मद तस्लीमुद्दीन,लक्ष्मीकांत ताती,विजय पासवान, कार्यक्रम की अध्यक्षता भाकपा के जिला सचिव रामनरेश प्रसाद ने किया अन्य वक्तागण शिव शंकर प्रसाद,रामधिन प्रसाद, अशोक कुमार, रामदेव चौधरी, लॉन्गी शर्मा,गिरजा देवी,अनीता देवी,सिहासन देवी,रेनू देवी, चांद ,मोहम्मद परवेज, मोहम्मद हसन इमाम, प्रोफेसर साबिर, रविंदर सिंह, राजकिशोर प्रसाद ,तबरेज अजीम ,किशोर साव, विजेंद्र प्रसाद ,उमेश साव सकलदेव प्रसाद यादव इत्यादि उपस्थित थे।


Spread the news