सुपौल : आश्वासन के बाद नियोजित शिक्षक संघ गोपगुट का अनिश्चितकालीन धरना ख़त्म

728x90
Spread the news

रियाज खान
संवाददाता
भीमपुर, सुपौल

छातापुर/सुपौल/बिहार : छातापुर प्रखंड मुख्यालय स्थित मनरेगा भवन के आगे टीईटी-एसटीईटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ गोपगुट द्वारा सात सूत्री मांगो को लेकर प्रखंड अध्यक्ष सीजेन्द्र कुमार सुमन की अध्यक्षता में तीसरे दिन सोमवार अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी रहा ।

धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए प्रखंड अध्यक्ष श्री सुमन ने कहा कि बीडीओ द्वारा शिक्षक विरोधी नीति के तहत सेवा पुस्तिका संधारण के कार्य को जान बूझकर लटकाया जा रहा है, जिसके खिलाफ हम सभी शिक्षक गोलबंद होकर बीडीओ तथा प्रखंड अन्तर्ग आने वाले सभी नियोजन इकाई के सचिव के खिलाफ धरना प्रदर्शन करना पर रहा है । कहा कि इतिहास गवाह है, जब जब अफसर शाही बढ़ी है तब तब क्रांति हुआ है, यदि प्रखंड विकास पदाधिकारी और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी ने शिक्षकों के न्यायोचित मांग पर विचार नहीं किया तो यह आंदोलन तब तक चलता रहेगा । जब तक हमारी मांग नहीं मान ली जाती है।

विज्ञापन

संघ के जिलाध्यक्ष मनोज कुमार यादव ने कहा कि प्रखंड विकास पदाधिकारी के हठधर्मिता के कारण सैकडों नव प्रशिक्षित शिक्षक अपने मूल अधिकार से वंचित है । विगत 12 माह से प्रशिक्षित रहते हुए अप्रशिक्षित वेतन ले रहे हैं । जबकि इस संदर्भ में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना के द्वारा चार बार पत्र निर्गत किया जा चुका है । लेकिन हठधर्मि बीडीओ के द्वारा शिक्षकों को प्रशिक्षित वेतनमान को स्वीकृति नहीं दी जा रही है जो नव प्रशिक्षित शिक्षकों के साथ घोर अन्याय है । वहीं संघ के जिला उपाध्यक्ष आशीष राठोड़ ने कहा कि यदि बीडीओ अपनी हठधर्मिता को नहीं छोड़ता है तो हमलोग प्रखंड कार्यालय के मुख्य द्वार पर तालाबंदी कर आमरण अनशन पर बैठेंगे । संघ के प्रखंड संयोजक जय प्रकाश सिन्हा ने शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रखंड विकास पदाधिकारी यदि आप पढ़ लिखकर ऑफिसर बने हैं तो शिक्षक नियमावली का अध्यन की जाय और शिक्षकों को प्रशिक्षित वेतनमान को स्वीकृति दी जाय ।

धरना के दौरान सात सूत्री मांग पत्र शिक्षकों द्वारा आरडीओ अजित कुमार को सौंपा गया, आरडीओ ने शिक्षकों को मांग पूरी करने का आश्वासन दिया । आरडीओ के आश्वासन पर धरना प्रदर्शन का समापन कर दिया गया।
मौके पर मिथिलेश राय, मो मिनतुल्ला, मुशर्रत प्रवीण, प्रशांत कुमार, सोनू पूर्वे, प्रभाष कुमार, रविंद्र कुमार, सुजीत कुमार, विजय कुमार, वसीम अकरम, वलिउर्रहमान, संतोष कुमार, अमित कुमार, श्याम नारायण यादव, राजकुमार, शिवनंदन राम, कबि कुमार, पंकज कुमार, मनोज कुमार, मृतुन्जय कुमार, हेमंत कुमार, प्रकाश कुमार, दीपक दास, प्रमोद यादव आदि शिक्षक मौजूद थे ।


Spread the news