मधेपुरा : नए वर्ष में मिलेगी कई सौगातें, कुलपति ने की घोषणा

728x90
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : बीएनएमयू कुलपति प्रो डा अवध किशोर राय ने नव वर्ष के शुभ अवसर पर छात्र-छात्राओं के लिए कई सौगातों की घोषणा की है। कुलपति ने ये घोषणाएं सोमवार एवं मंगलवार को विभिन्न छात्र संगठनों के प्रतिनिधियों से मुलाकात के बाद की है।

 कुलपति ने कहा कि वे छात्र-छात्राओं के समस्याओं के समाधान के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसके लिए उनकी इच्छा है कि  छात्र-छात्राओं से जुड़े सभी कार्यों को सिंगल विंडो सिस्टम से करने की व्यवस्था हो, इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। कुलपति ने बताया कि जनवरी में विश्वविद्यालय के पुराने केंपस में महिला छात्रावास चालू किया जाएगा। इसके लिए इच्छुक छात्राएं 20 जनवरी तक जनसंपर्क कार्यालय में आवेदन जमा कराएं। जैसे ही 20 आवेदन प्राप्त होगा, छात्रावास चालू कर दिया जाएगा. उन्होंने विभिन्न छात्र संगठनों से भी इस मामले में पहल करने की अपील की है।

विज्ञापन

 कुलपति ने कहा है कि स्नातकोत्तर स्तर के सभी छात्र-छात्राओं एवं शोधार्थियों के लिए केंद्रीय पुस्तकालय में पुस्तकें उपलब्ध है। सभी छात्र छात्राएं एवं शोधार्थी पुस्तकालय का सदस्य बनकर इसका लाभ लें। उन्होंने पुस्तकालय के प्रोफेसर इंचार्ज को निदेश दिया कि वे छात्र-छात्राओं को सदस्यता फार्म एवं पुस्तकालय कार्ड उपलब्ध कराएं।

विज्ञापन

नार्थ कैंपस में एसबीआई के काउंटर एवं कैंटीन की होगी व्यवस्था : कुलपति ने बताया कि नार्थ कैम्पस में पुलिस चौकी स्थापित करने के लिए विश्वविद्यालय प्रयासरत है। इसके लिए पुलिस अधीक्षक को काफी पहले पत्र भेजा गया है। नार्थ कैंपस में एसबीआई का एक काउंटर खुलबाया जाएगा और कैंटीन की व्यवस्था की जाएगी। कुलपति ने बताया कि विश्वविद्यालय प्रत्येक वर्ष 10 जनवरी को स्थापना दिवस एवं एक फरवरी को भूपेन्द्र नारायण मंडल की जयंती मना रहा है। आगे से इसे विश्वविद्यालय कैलेंडर में भी शामिल किया जाएगा। उन्होने ने बताया कि वे सभी प्रधानाचार्यों को सृजित पदों पर नियमानुसार तृतीय एवं चतुर्थवर्गीय कर्मचारियों की सेवा लेने का निदेश दे चुके हैं। इस अवसर पर जनसंपर्क पदाधिकारी डा सुधांशु शेखर एवं कुलपति के निजी सहायक शंभु नारायण यादव आदि उपस्थित थे। कुलपति ने इन दोनों को यह निदेशित किया कि वे छात्रों की समस्याओं से जुड़े मुद्दों पर विशेष रूप से ध्यान दें।


Spread the news