मधेपुरा : सदर थाना से महज कुछ ही दूरी पर, बेख़ौफ़ अपराधियों से मचाया तांडव, व्यवसायी को गोली मार लूटकांड को दिया अंजाम  

(फोटो –टीआरटी)
728x90
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार :  जिला मुख्यालय के मुख्य बाजार के बड़ी दुर्गा मंदिर के बगल में स्थित सोने चांदी के थोक विक्रेता राजकुमार स्वर्णकार के पुत्र अभिषेक स्वर्णकार को गोली मारकर घायल कर दिया। जानकारी के अनुसार सोमवार को दिन के करीब 11 बजे के आसपास जिला मुख्यालय के मुख्य बाजार के बड़ी दुर्गा मंदिर के बगल में आधा दर्जन की संख्या में आए तलवार एवं बंदूक से लैस बदमाशों ने दिनदहाड़े सोने चांदी के थोक विक्रेता राजकुमार स्वर्णकार के पुत्र अभिषेक स्वर्णकार को गोली मारकर घायल कर दिया।

 मामले की जानकारी देते हुए प्रत्यक्षदर्शी सुमित कुमार ने बताया कि बंदूक एवं तलवार से लैस छह अपराधी लूट की मंशा से दुकान में पहुंच कर अंधाधुंध फायरिंग करने लगे तथा तीन गोली अभिषेक स्वर्णकार के ऊपर भी चलाई, जिसमें दो गोली अभिषेक सोनकर के पेट में लगी एवं एक गोली जांघ में जिसके बाद अपराधियों ने लूटपाट कर मौके से फरार हो गए। मौके पर मौजूद परिजनों ने आनन-फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां स्थिति को गंभीरती को हुए उसे बेहतर उपचार के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। मौके पर पहुंचे एसपी संजय कुमार नेे अपराधियोंको चिन्हित कर उनके खिलाफ जल्द कार्रवाई करने की बात कही।

देखें वीडियो :  

विरोध करने आए दूसरे व्यवसाई को किया घायल : अभिषेक स्वर्णकार को गोली मारने तथा दुकान लूट कर जाने के क्रम में मुरलीगंज प्रखंड के व्यवसाई संतोष प्रसाद दुकान पर पहुंच गए। संतोष प्रसाद को दुकान पर आता देख अपराधियों ने उन पर गोली चला दी। जिसके बाद संतोष प्रसाद को समझ में आया कि अपराधी दुकान में लूट कांड को अंजाम दे रहे हैं। जिनका उन्होंने विरोध किया तो अपराधियों ने उन पर तलवार से वार कर दिया। हालांकि संतोष प्रसाद को गोली सिर्फ छूकर निकल गई। जिससे संतोष प्रसाद गोली छूकर निकलने एवं तलवार की वार कारण जख्मी हो गए। जिसके बाद अभिषेक स्वर्णकार के साथ उन्हें भी सदर अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज घर भेज दिया गया।

लूटा दुकान का जीव तथा तोड़ा सीसीटीवी डीवीआर : अभिषेक स्वर्णकार को गोली मारने तथा दुकान में लूट कांड की घटना को सुनते ही बाजार के सभी लोगों की भीड़ अभिषेक स्वर्णकार की दुकान पर एकत्रित हो गई। वहां उपस्थित लोगों ने बताया कि अपराधी लूट कांड की घटना को अंजाम देने के लिए पूरी तैयारी के साथ आए हुए थे। लोगों ने बताया कि अपराधी हथियार के अलावा एक झोला भी साथ लेकर आए थे। जिसमें भारी मात्रा में भरकर आभूषण ले गए हैं। हालांकि कुल कितने रुपए के आभूषणों की लूट हुई है इस बात की जानकारी अभी तक प्राप्त नहीं हुई है।

काली रेन का पट्टी चेहरे काले रंग के पट्टी बांधकर अपराधी पहुंचे थे। जिस वजह से किसी की भी पहचान नहीं हो सकी। जाते-जाते अपराधियों ने वहां मौजूद लैपटॉप एवं सीसीटीवी के डीवीआर को भी तोड़ दिया।

अभिषेक स्वर्णकार के साथ हुई घटना को लेकर व्यापारियों ने किया बाजार बंद: सोमवार को जिला मुख्यालय में अभिषेक स्वर्णकार के साथ हुई लूट एवं गोलीबारी की घटना को लेकर आक्रोशित व्यापारियों ने विरोध में पूरा दिन अपना दुकान बंद रखा। साथ ही दिन प्रतिदिन बढ़ रही अपराधिक गतिविधियां को लेकर जिला प्रशासन एवं राज्य सरकार को जमकर कोसा। बाजार बंद होने से आम लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। लोगों को घरेलू जरूरियात सामान खरीदने के लिए भी शहर से बाहर का रास्ता अख्तियार करना पड़ रहा था। आक्रोशित व्यापारियों ने जिला प्रशासन के साथ-साथ सुबे के मुखिया नीतीश कुमार पर भी जमकर हल्ला बोला। व्यापारियों ने कहा कि जीरो टोलरेंस का नारा देने वाली सरकारी अधिकारियों से अब प्रशासन नहीं संभल रहा है। दिन प्रतिदिन अपराधियों का मनोबल बढ़ता जा रहा है, लेकिन पुलिस उस पर लगाम लगाने में विफल साबित हो रही है. शहर की विधि व्यवस्था चरमरा गई है। रोज हो रहे वारदातों में किसी भी मामले का पुलिस खुलासा नहीं कर पा रही है। जिले में लूटमार, गोलीबारी एवं चोरी की वारदात आम हो गई है। जिससे आम लोगों में दहशत व्याप्त है। गौरतलब है कि पिछले कुछ महीनों से लूट, चोरी एवं हत्या की घटनाएं बढ़ती जा रही है। इनमें से अधिकतर मामलों का निपटारा नहीं हो पाया है।


Spread the news