हिंदी सिनेमा की नई खोज अभिनेत्री प्रिया श्री चौहान

(फोटो –टीआरटी)
Spread the news

अनूप ना. सिंह
स्थानीय संपादक

कहते हैं कि दिल में कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो तमाम बाधाओं के बावजूद इंसान अपनी मंजिल को प्राप्त कर ही लेता है इस कहावत को वास्तविकता के धरातल पर अक्षर सः सत्य सिद्ध कर दिखाया है बॉलीवुड अभिनेत्री प्रिया श्री चौहान ने।

एक साधन संपन्न परिवार से आने वाली प्रिया ने इस मिथक को भी तोड़ा है कि छोटे शहरों की लड़कियां बिना किसी गॉडफादर के बॉलीवुड में आगे नहीं बढ़ सकती प्रिया के पिता आर्मी में अधिकारी थे, इस कारण से इनकी स्कूली शिक्षा दीक्षा पूर्वोत्तर के राज्य नागालैंड में हुई। कॉलेज की पढ़ाई नोएडा मे हुई। यहीं से इन्होंने बीकॉम किया दिल्ली से मॉडलिंग की शुरुआत हुई और यात्रा मुंबई तक पहुंची प्रिया श्री चौहान को पहला ब्रेक कलर्स चैनल के चर्चित धारावाहिक शास्त्री सिस्टर्स में मिला उनके अभिनय की सराहना हुई। उसके उसके बाद स्टार प्लस के धारावाहिक इश्कबाज ने उनके करियर को एक नई उड़ान दी।

क्राइम पेट्रोल धारावाहिक  में भी इन्होंने अपने अभिनय प्रतिभा का हुनर दिखाएं. साउथ की सुपरहिट मूवी में भी बतौर अभिनेत्री ये नजर आई फिलहाल बॉलीवुड की एक बड़े बजट की कॉमेडी फिल्म में अभिनेत्री के तौर पर नजर आने वाली है। बातचीत के क्रम में प्रिया ने बताया कि इन्हें अपने हुनर पर शुरू से ही विश्वास था मॉडलिंग ने इनके लिए बॉलीवुड के दरवाजे खोले शुरुआती दौर में दिल्ली में पढ़ाई कर रही थी तो दोस्तों के कहने पर इन्होंने अपना पहले फोटो शूट कराया उसके बाद में जिन्होंने कई बहुराष्ट्रीय कंपनियों के विज्ञापनों में काम किया उसके बाद कलर्स चैनल के धारावाहिक में काम मिला। महज 24 वर्ष की  चुलबुली प्रिया आज बॉलीवुड का हिस्सा सिर्फ और सिर्फ अपने जुनून जोश और जिद की वजह से बनी है।

बेपनाह हुस्न की मल्लिका प्रिया श्री चौहान ने अपने खुद के हुनर के बल पर बॉलीवुड में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। टेलीविजन सीरियल और वेब सीरीज के माध्यम से तेजी से रुपहले पर्दे के तरफ अग्रसर प्रिया को बॉलीवुड के कई बड़े मेकर्स ने ऑफर भी दे रहे है। हिंदी के अलावा अन्य भाषा की फिल्मों में काम करने के सवाल पर प्रिया ने कहा कि कलाकार किसी बंधन में नहीं बंधा होता, अगर अच्छी स्क्रिप्ट होगी तो मैं अन्य भाषाओं में भी काम करूगी। पहली प्राथमिकता तो बॉलीवुड हम इतने सारे फिल्मों के ऑफर से आ रहे हैं उनमें से अच्छी स्क्रिप्ट वाली फिल्में है स्वीकार कर रही हू। एक सवाल के जवाब में प्रिया ने कहा कि सभी जगह अच्छे और बुरे लोग हैं । वे आर्मी बैकग्राउंड वाली परिवार से है इस लिए अनुशासन के महत्व को जानती है हर जगह लक्ष्मणरेखा है किस वेश में कौन है उसे आप पहचान नहीं सकते फिर भी अगर आप बेहतर हैं तो बुरे लोग आपके इर्द-गिर्द ही नहीं सकते हैं।

 प्रिया ने बताया कि फिलहाल में अभिनय की बारीकियों को सीख रही हैं साथ ही साथ अपने फिटनेस का पूरा ख्याल रखती हैं। संगीत किताबें पढ़ना यात्राएं करना उन्हें पसंद है।


Spread the news
advertise