मधेपुरा : कैंप लगाकर प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की दी गई जानकारी

(फोटो –टीआरटी)
Spread the news

अमित कुमार अंशु
उप संपादक

मधेपुरा/बिहार : गुरुवार को जिला मुख्यालय स्थित कला भवन में प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना एवं राष्ट्रीय पेंशन योजना के प्रचार-प्रसार को लेकर एक दिवसीय वृहद नामांकन कैंप का आयोजन किया गया।  कैंप का उद्घाटन जिला पदाधिकारी नवदीप शुक्ला, कोसी प्रमंडल सहरसा के सहायक श्रमायुक्त आदित्य राजहंस, जिला श्रम अधीक्षक सुजीत कुमार सहित उपस्थित अन्य लोगों ने सामूहिक रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

 मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए जिलाा पदाधिकारी नवदीप शुक्ला ने बताया कि परिवार को चलाने के लिए लोग दैनिक मजदूरी करते हैं, लेकिन उम्र होने पर जब शरीर अशक्त होता है तो आर्थिक सुरक्षा की आवश्यकता होती है। इसके लिए भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि इस योजना के माध्यम से लोगों को पेंशन प्राप्त होगा।  इसके लिए लोगों को निबंधन कराने की आवश्यकता है और अधिक से अधिक लोगों को भी इससे जोड़ने की आवश्यकता है। उन्होंने श्रम अधिनियम ओं की विस्तार से जानकारी दी। जिला श्रम अधीक्षक सुजीत कुमार ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि असंगठित क्षेत्रों के कामगार में खेतिहर मजदूर, फेड़ी वाला, रिक्शा एवं ठेला चालक, भूमिहीन मजदूर, धोबी, कचरा चुनने वाला, बोझा उठाने वाला, निर्माण मजदूर जो 18 से 40 वर्ष आयु के हैं और मासिक आय 15 हजार से कम है, वह इस योजना में अपना निबंधन कराएं।

(फोटो –टीआरटी)

सभी जगह होता है निबंधन: कोसी प्रमंडल सहरसा के सहायक श्रम आयुक्त आदित्य राजहंस ने बताया कि इस योजना का निबंधन मनरेगा कार्यालय, प्रखंड कार्यालय, श्रम कार्यालय एवं कॉमन सर्विस सेंटर सहित अन्य जगहों पर ऑनलाइन होता है। इसके लिए आधार कार्ड एवं बचत खाता या जनधन पासबुक की आवश्यकता है। अंगूठे एवं उंगली द्वारा (बायोमेट्रिक) पहचान होने के बाद कंप्यूटर के द्वारा मासिक योगदान तय होगा।  जिसमें न्यूनतम 55 रुपये से लेकर अधिकतम दो सौ रुपये आवेदक द्वारा मासिक भुगतान नगद में किया जाएगा।

60 वर्ष की आयु के बाद तीन हजार रुपया मिलेगा पेंशन : जिला श्रम अधीक्षक सुजीत कुमार ने बताया कि इस योजना के तहत 60 वर्ष आयु के बाद तीन हजार रुपया प्रतिमा कि सुनिश्चित पेंशन प्राप्त होगी। केंद्र सरकार द्वारा बराबर का अंशदान दिया जाएगा। मासिक अंशदान न्यूनतम 55 रुपया से लेकर अधिकतम दो सौ रुपया उम्र के आधार पर ली जाएगी। इस वृहद कैंप में लगे 15 सीएससी सेंटर पर लगभग पांच सौ लाभुकों ने पेंशन योजना में निबंधन कराया।

कार्यक्रम का संचालन सदर प्रखंड के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी संजीव कुमार ने किया। मौके पर विभिन्न प्रखंडों के श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी दुर्गा शंकर प्रसाद, शीला कुमारी, दिलीप कुमार झा, मनोज प्रभाकर, भवेंदु कुमार, मुकेश कुमार वर्मा एवं कार्यालय कर्मी सहित अन्य लोग उपस्थित थे. इस अवसर पर विभिन्न श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।


Spread the news
advertise