नालंदा: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गांव कल्याण बीघा में फरियादियों और जदयू समर्थकों में मारपीट

728x90
Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

नालंदा/बिहार : मुख्यमंत्री के गृह जिला नालंदा के गृह प्रखंड के कल्याण बीघा गांव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से फरियाद करने आए फरियादियों के साथ मारपीट, भगदड़ फिर अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने पिता स्वर्गीय राम लखन सिंह के  पुण्यतिथि पर कल्याण बीघा गांव राम लखन सिंह बाटीका में श्रद्धांजलि देने के लिए आने वाले थे। इस बात की जानकारी ग्रामीणों को थी और उसी को लेकर फरियाद करने ग्रामीण राम लखन सिंह वाटिका के आगे धरने पर बैठ गए। दरअसल हकीकत मामला यह है कि बीती रात एक नौजवान बख्तियारपुर ससुराल से अपने गांव बारह आ रहा था इसी बीच लुटेरों ने उसे लूट लिया और मोटरसाइकिल भी छीन ली हाथ पैर बांधकर खेत में फेंक दिया।

इस घटना से गांव के ग्रामीण काफी आक्रोशित थे और इसी की फरियाद करने के लिए कल्याण बीघा गांव पहुंच गए और स्मृति वाटिका के आगे धरने पर बैठ गए। लेकिन जेडीयू समर्थकों ने जबरन हटाने की कोशिश की जिस पर मामला बढ़ गया पहले वाद-विवाद हुआ और फिर खदेड़ दिया गया जिससे भगदड़ मच गई और वहां पर अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया महिलाओं के द्वारा चप्पल जूते भी चले हालांकि जिला आरक्षी अधीक्षक निलेश कुमार ने बीच-बचाव कर मामला को शांत कराया बाद में आरक्षी अधीक्षक निलेश कुमार ने सभी फरियादियों की बात सुनकर तुरंत निष्पादन करने का आश्वासन दिया तब लोग शांत हुए।

ग्रामीणों का आरोप है कि इलाके के विधि व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है जिसके कारण आए दिन किसी न किसी तरह की घटनाएं घटती रहती है थानों में फरियादियों की बात सुनी नहीं जाती है इन सभी घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने फरियाद करने के लिए आए थे ग्रामीणों का यह भी आरोप था कि जिले में पूरी तरह से विधि व्यवस्था चरमरा कर रह गई है।


Spread the news