नालंदा : अपराधियों की गोली से घायल युवक की इलाज के दौरान मौत, स्थानीय लोगों का फूटा गुस्सा

Spread the news

मुर्शीद आलम
नालंदा ब्यूरो
बिहार

तीना कांड : हरनौत विधायक के भाई -भतीजावाद व तीन अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी 

नालंदा/बिहार : जिले मे अपराधिक घटना थमने का नाम ही नहीं ले रहा है बेखौफ अपराधियों के द्वारा घटना को अंजाम दिया जा रहा है। अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि बताना मुमकिन नहीं। कुछ दिन पहले अमन कुमार उर्फ जीतू रजक अपने दुकान में बैठे हुए थे, इसी दौरान नंदू पासवान अपने चार पुत्रों की सहयोग से दुकान में प्रवेश कर अमन कुमार को गोली मारकर मार दी थी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए जिसका इलाज पटना में किया जा रहा था लेकिन इलाज के दौरान अमन कुमार की मौत हो गई। आशा नगर के स्थानीय आक्रोशित लोगों ने सुबह बिहार शरीफ -पटना राष्ट्रीय राजमार्ग 20 को जाम कर दिया और आगजनी की जिससे सड़क पर चलने वाली सभी गाड़ियां की लंबी-लंबी कतार लग गई। भीड़ के द्वारा प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की गई यात्रियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। स्थानीय पुलिस और डीएसपी इमरान ने मृतकों के परिजनों को काफी समझाने बुझाने के बाद मामला शांत हुआ तब जाकर जाम हटा। स्थानीय लोगों ने प्रशासन के द्वारा आपदा प्रबंधक से मदद की भी गुहार लगाई।
           दूसरी ओर शुक्रवार को जिले के नगरनौसा थाना अंतर्गत तिना- मोहम्मद पुर गांव के बीच हुई सरेआम हत्या का आरोप सीधे तौर पर हरनौत जदयू विधायक हरिनारायण सिंह के भाई और भतीजा समेत तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है, यह घटना शाम के 5:00 बजे होटल के पास घटी थी। इस घटना के बाद उत्तर उपद्रवियों ने होटल में आग लगा दी थी और पास के गाड़ियों को साथ तोड़फोड़ भी की गई थी और काफी बवाल मचा था। विधायक के भाई सुरेश महतो द्वारा साजिश कर कत्ल के जाने का आरोप लगाया गया है मृतक के भाई ने प्राथमिकी में घटना का कारण बताते हुए आरोप लगाया है कि सुरेश महतो का पुत्र भूषण महतो से उनके भाई शैलेश कुमार उर्फ जट्टा से ड्राइवरी वेतन को लेकर वाद- विवाद हुआ था उसी कारण हत्या की गई है। दर्ज प्राथमिकी में सुरेश महतो पिता रामशरण महतो, स्वार्थ जमादार पिता कालू जमादार एवं भूषण महतो पिता सुरेश महतो के अलावे तीन अज्ञात लोगों को भी प्राथमिकी में नाम दर्ज किया गया है पुलिस मामले की जांच में जुटी है।


Spread the news
advertise