दरभंगा : जदयू के कद्दावर नेता ने उठाया बड़ा सवाल, जिलाप्रशासन और जनप्रतिनिधि क्यो कर रहे है सौतेला व्यवहार

Spread the news

ज़ाहिद  अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : दरभंगा नगर निगम की महापौर वैजयंती खेड़िया ने आज शहर स्थित तालाबों और बागमती नदी में चल रहे छठ घाटों के सफाई कार्य का निरीक्षण किया। उन्होंने हराही, दिग्घी, गंगासागर, नीम पोखर, चट्टी पोखर, महथा पोखर सहित बागमती नदी के बालूघाट, नारद घाट, पंचानाथ, हजारीनाथ, प्रधान घाट आदि जगहों पर जाकर सफाई कार्यों का जायजा लिया।

महापौर ने बताया कि चूंकि मैं स्वयं इस महाव्रत को करती हूँ इसलिए पूर्ण आस्था के साथ सभी व्रतियों की सुविधा हेतु तत्परता से लगी हुई हूँ। महापौर ने बताया कि छठ के अवसर सभी घाटों पर तथा रास्तों पर चूना तथा ब्लीचिंग पाउडर का भी छिड़काव किया जाएगा। उधर दूसरी ओर जदयू के प्रदेश महासचिव (किसान प्रकोष्ट) रविन्द्र कुमार यादव ने एक बड़ा सवाल उठाया है। उन्होंने कहा है कि आखिर जिला प्रशासन की कोई व्यवस्था गावँ देहात के छठ घाट पर क्यो नही है? छठ पर्व के अवसर पर शहरी क्षेत्र में ही कुछ सुबिधायें उपलब्ध कराई जाती है। गाँव के लोगो के साथ सरकार और जिला प्रसाशन का सौतेला बर्ताव क्यों है?

उन्होंने कहा कि सरकार और जिला प्रसाशन से मैं जानना चाहता हूं कि 80 प्रतिशत लोग जो गावँ में छठ पर्व मनाते है उनके घाट पर बिजली पानी छठ घाट का निर्माण की आवश्यक्ता नही है। ये सौतेला बर्ताव क्यों है? दरभंगा जिला के 11 छोटी बड़ी नदी के किनारे बसे गावँ के लोग नदी के घाट पर ही छठ मनाते है। आज तक मैं किसी पदाधिकारी को घाट के निरीक्षण करते नही देखा, न ही किसी जनप्रतिनिधि को, आखिर क्यों?


Spread the news
advertise