दरभंगा : क्राइम मीटिंग में एसएसपी दिखे सख्त, कहा-चेम्बर में बैठकर अब नहीं चलेगी थानेदारी

728x90
Spread the news

ज़ाहिद  अनवर (राजु)
उप संपादक

दरभंगा/बिहार : आज दरभंगा के वरीय पुलिस अधीक्षक बाबूराम ने मासिक अपराध संगोष्ठी में थानाध्यक्षों की जमकर क्लास लगाई। उन्होंने कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि कार्यालय में बैठकर थानेदारी नहीं चलेगी। अगर निरीक्षण में थाना चेम्बर में बैठे पाए गये तो अपने को निलंबित समझें।

उन्होंने कहा कि बेहतर पुलिसिंग लोगों के बीच नजर आनी चाहिए। शराब मामले में अद्यतन रिपोर्ट नहीं रहने के कारण मद्य निषेध प्रशाखा के प्रभारी केदार प्रसाद को लाइन हाज़िर करते हुए विभागीय कार्यवाही करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि अगर इस तरह की लापरवाही में और कोई पकड़े गए तो उन पर भी इसी तरह की कारवाई की जाएगी।

एसएसपी बाबूराम एक-एक कर जिले के सभी थानेदारों से अपने-अपने क्षेत्रों में बरामद किए गए शराब मामले में अंतिम कारवाई की विस्तृत जानकारी ली साथ ही बड़े शराब कारोबारी व वर्तमान में धंधे में लिप्त है अथवा नहीं और ऐसे कौन-कौन लोग हैं। उनकी सूची बनाकर एसपी कार्यालय में जमा करने का निर्देश दिया है। अगर क्षेत्र में शराब की बड़ी खेप बरामद होती है और पूर्व के कारोबारी का नाम अनुसंधान में आता है या पकड़ा जाता है तो इसके लिए सीधे तौर पर थानेदार जिम्मेवार होंगे। वहीं कुर्की वारंटी निष्पादन मामले में एसएसपी ने बेनीपुर एवं बिरौल एसडीपीओ को पोषक क्षेत्र के न्यायालय से सूची जिला मुख्यालय को भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है ताकि समय पर निष्पादन कराया जा सके। बैठक के दौरान सिटी एसपी योगेंद्र कुमार, सदर डीएसपी अनोज कुमार, बेनीपुर डीएसपी उमेश्वर चौधरी, बिरौल डीएसपी दिलीप कुमार झा, मुख्यालय डीएसपी सुधीर कुमार सहित जिले के सभी सर्किल इंस्पेक्टर एवं थाना अध्यक्ष उपस्थित थे।


Spread the news